जनसमस्या शिविर में 73 फरियादियों ने अपनी समस्यायें बताई

हल्द्वानी, खबर संसार। कैम्प कार्यालय पहुचकर शनिवार को फरियादियो ने जिलाधिकारी सविन बंसल के समक्ष अपनी समस्यायें रखी, जनसमस्या शिविर में 73 फरियादियों द्वारा अपनी समस्यायें पंजीकृत करायी। शिविर में मुख्य रूप से सडक, बिजली, पानी, शिक्षा, सिचाई, बीमारी ईलाज, मुआवजा, जिला विकास प्राधिकरण सम्बन्धी शिकायतें दर्ज हुई।

शिविर में ग्राम चैसला निवासी मुस्तफा ने भाखडा नाले मे उफान के कारण सिचाई गूल क्षतिगस्त होने  व कृषि भूमि कटाव की समस्या से अवगत कराते हुये क्षतिग्रस्त गूल की मरम्मत कराने व भू-कटाव रोकने हेतु दीवार लगाने की मांग रखी, जिस पर जिलाधिकारी ने भू-कटाव रोकने हेतु मनरेगा से दीवार बनवाने के निर्देश जिला विकास अधिकारी को दिये व क्षतिग्रस्त गूल का सर्वे कर मरम्मत कराने के निर्देश अधिशासी अभियन्ता सिचाई को दिये।

चतुर सिह बोरा निवासी ओखलकांडा ने प्राइमरी पाठशाला कचलाकोट के पीछे की दीवार दैवीय आवदा मे ध्वस्त होने की बात रखते हुये दैवीय आपदा से सुरक्षा दीवार पुनःनिमार्ण व मलूवा निस्तारित करने का आग्रह किया, जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को दैवीय आपदा मे प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये। गणेश कुमार आगरी ने गोरापडाव एवं तीनपानी चैराहे पर सार्वजनिक शौचालय व पेयजल नल लगाने का आग्रह किया।

जिस पर जिलाधिकारी ने पर्यटन अधिकारी को स्थान चिन्हित करने के निर्देश दिये। बसन्ती देवी नयां गांव निवासी ने पुत्र की बीमारी के ईलाज हेतु सहायता की मांग रखी, जिस पर जिलाधिकारी ने सहायता हेतु मुख्यमंत्री कोष के लिए पत्र भेजने के निर्देश अपर जिलाधिकारी को दिये।

शान्तिदेवी ने उनके पति होमगार्ड ड्यूटी दौरान दुर्घटना मे घायल हो गये थे, विभाग से उपचार धनराशि व मुआवजा ना मिलने की शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी ने कमाण्डेन्ट होमगार्ड को नियमानुसार धनराशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिये, जिस पर कमाण्डेन्ट से बताया कि मुआवजा धनराशि पत्रावली निदेशालय को भेजी गई है।

पेंशनर वैलफेयर आर्गेनाइजेशन हल्द्वानी ने बीयशिबा चैराहे पर विद्यालयों के प्रातः स्कूल समय व छूट्टी के समय अत्यधिक भीड-भाड व वाहन ट्रेफिक होने के कारण दुर्घटनाओं की सम्भावनायें व्यक्त करते हुये ट्रैफिक पिकेट बनाने का अनुरोध किया, जिस पर जिलाधिकारी ने आगामी सडक सुरक्षा समिति बैठक मे मामले को रखने का आश्वासन दिया।

पार्षद वार्ड न-42 धीरज पाण्डे ने कुसुमखेडा, ऊंचापुल, कमलुुवागांजा एवं भगवानपुर क्षेत्र की सडकों में पालतू खच्चरों को छोडने की शिकायत की जिससे फसलों के नुकसान के साथ ही एक्सीडेंट होने की सम्भावनायें बनी रहती है। जिस पर जिलाधिकारी ने नगर निगम व मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को बाइलाॅज उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

शिविर कार्यालय मे मौजूद अधिकारियों एव फरियादियों के बीच दोतरफा संवाद कायम कराते हुये जिलाधिकारी ने अनेकों समस्याओं का मौके पर ही निराकरण किया। श्री बंसल की जनसमस्याओं की निराकरण की कार्यशैली काफी लोकप्रिय एवं चर्चा का विषय है साथ ही लोगों का विश्वास भी प्रशासनिक व्यवस्था के प्रति और अधिक मजबूत हुआ है।

शिविर में नगर आयुक्त सीएस मर्तोलिया,सिटी मजिस्टेट प्रत्यूष सिह, जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी,अधिशासी अभियन्ता विद्युत डीके जोशी, अमित आनन्द, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट,जलसंस्थान विशाल सक्सेना, सिचाई तरूण बंसल, समाज कल्याण अमन अनिरूद्व, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता,जिला प्रोवेशन अधिकारी व्योमा जैन के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *