तीन तलाक विधेयक पारित न होने के लिए राहुल जिम्मेदार बीजेपी

Please follow and like us:

नई दिल्ली (खबर संसार)
मानसून सत्र में तीन तलाक विधेयक को संसद में मंजूरी नहीं मिली। बीजेपी ने इसके लिए राहुल गांधी को जिम्मेदार ठहराया है। बीजेपी ने कहा कि उनकी पाटीü ने लोकसभा में तीन तलाक विधेयक को लोकसभा में समüझन किया था लेकिन वोट बैंक की राजनीति ध्यान में रखते हुए राज्यसभा में इसे समüथन नहीं दिया गया। संसदीय मामलों में मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि सरकार ने इस विधेयक को पारित कराने के लिए आखिरी समय तक कोशिश की लेकिन कांग्रेज ने उसे पारित नहीं होने दिया। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि श्तीन तलाक विधेयक को दभाüग्य से कांग्रेस और पाटीü के अध्यक्ष राहुल गांधी ने पारित नहीं होने दिया। इस संस्था का कहना है कि लगातार तीन तलाक बोलने के तो हम भी खिलाफ हैं। ये गुनाह है और इसके लिए हम प्रचार भी करते हैं। लेकिन कुरान में तीनतलाक का जो सही तरीका बताया गया है उसे माना जाएगा। वैसे तो शिया समुदाय में तीन तलाक का नियम नहीं है लेकिन सुन्नियों में अगर है तो हम उसकी इज्जत करते हैं। साथ ही इस पर भी बात होनी चाहिए जो इसका गलत फायदा उठाते हैं नदवा मदरसा तीन तलाक का जिक्र कुरान और हदीस दोनों से ही साबित है। वैसे तलाक को बहुत गलत बताया गया है और जो लोग भी इस बारे में बोल रहे हैं उन्हें पूरी जानकारी नहीं है। देवबंद-बरेली मदरसा कुरान में तीन तलाक का साफ तौर पर जिक्र हुआ है लेकिन लगातार तीन तलाक बोलने से परहेज करना चाहिए। अगर कोई गुस्से में आकर या फिर जाने-अनजाने में एक साथ तीन तलाक बोल देता है तो वो माना जाएगा। बरेली मदरसे का कहना है कि कुरान में तीन तलाक का तरीका बताया गया है उसे को सभी लोग अपनाते भी हैं। ऑल इंडिया मुस्लिम पसüनल लॉ बोडü ऑल इंडिया मुस्लिम पसüनल लॉ बोडü की अध्यक्ष शाइस्ता अंबर के मुताबिक तीन तलाक के बारे में कुरान जो कहता है हम उसी को मानते हैं। जो लोग एक साथ तीन तलाक देते हैं हम उसमें बदलाव चाहते हैं।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *