रात 9 बजे के बाद एटीम में नहीं डाला जाएगा कैश सरकार ने दिए निर्देश

Please follow and like us:

नई दिल्ली (खबर संसार)
पिछले कुछ समय से एटीम कैश वाहनों पर हमले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। कैश वैन कैश वॉल्ट और एटीएम धोखाधड़ी जैसे मामले थमने का नाम नहीं ले रहे। इन मामलों को देखते हुए सरकार नए नियम लाई है। होम मिनिस्ट्री का फरमान आया कि अगले साल से किसी भी एटीएम में रात 9 बजे के बाद नकदी नहीं डाली जाएगी। गृह मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना जारी की गई है जिसमें निर्देश दिए गए हैं कि 8फरवरी 2019 से स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रसीजर एसओपी लागू होगा। गृह मंत्रालय द्वारा जारी निर्देश मे कहा गया कि नकदी ले जाने वाले वाहन के साथ दो हथियारबंध गार्ड होंगे। वहीं नकदी की देखरेख करने वाली एजेंसियां बैंकों से लंच ब्रेक से पहले ही कैश लेना होगा। देश में करीब 8000 कैश वैन परिचालन कर रही हैं। इन कैश वाहनों में रोजाना करीब 15000 करोड़ रूपए नकदी का परिचालन किया जाता है। कई बार निजी एजेंसियों पूरी रात नकदी अपने कैश वॉल्ट में रखती हैं। नकदी ले जाने के लिए एजेंसियों को निजी सुरक्षा उपलब्ध करानी होगी। प्रत्येक कैश वैन में एक ड्राइवर के अलावा दो सिक्यॉरिटी गार्ड दो एटीएम अधिकारी होंगे। एक हथियारबंद गार्ड को ड्राइवर के साथ आगे की सीट पर बैठना होगा जबकि दूसरा गार्ड पिछली सीट पर बैठेगा।
एटीएम वैन में होंगी नई सुविधाएं
सभी कैश वैन में जीएसएम बेस्ड ऑटो डायलर के साथ सिक्योरिटी अलार्म और मोटराइज्ड सायरन लगाए जाएंगे। सभी कैश वैन में ट्रैकिंग और बंदूकों के साथ कम से कम दो सिक्योरिटी गार्ड जरूरी होंगे। सिक्योरिटी गार्ड की बंदूकों से दो वर्ष में कम से कम एक बार टेस्ट फायरिंग की जाएगी और इनकी बुलेट प्रत्येक दो वर्षों में बदली जाएंगी। वाहन में बैठे अपराधियों की ओर से पीछा करना हमले अपराधियों को भगाने के लिए हथियारों का इस्तेमाल करना और मुश्किल वाली स्थिति से कैश वैन को सुरक्षित निकालने जैसी स्थितियों के लिए ट्रेनिंग शामिल होगी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *