अगले 3-4 घंटों में आंधी-तूफान

Sharing is caring!

नई दिल्ली (खबर संसार)।
दिल्ली-एनसीआर में धूल भरी आंधी और हल्की बारिश हुई। रात करीब 11 बजे धूल भरी तेज हवाओं ने अचानक शांत माहौल में खलबली मचा दी। दिल्ली-नोएडा में कुछ जगहों पर तो बिजली भी चली गई।
मौसम विभाग की चेतावनी के बाद यूपी में कई स्कूलों में मंगलवार 8 मई को अवकाश घोषित कर दिया गया है। गाजियाबाद, मेरठ, सहित कई शहरों में 12वीं तक के स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया गया है। वहीं दिल्ली सरकार ने शाम की पाली के स्कूल बंद रखने का आदेश दिया है। इसके अलावा स्थानीय प्रशासन ने एडवाइजरी भी जारी की है।
जहां हरियाणा सरकार ने आंधी-तूफान के मद्देनजर 7 और 8 मई की राज्य के सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है, वहीं पंजाब सरकार ने हेल्पलाइन नबंर जारी कर दिए हैं। सूत्रों के मुताबिक बीकानेर में जैसे ही तूफान पहुंचा, लोगों ने सुरक्षित स्थानों की ओर रुख कर लिया। इसके साथ ही सीमावर्ती इलाकों में बूंदाबांदी भी शुरू हो गई। स्थानीय प्रशासन किसी भी अनहोनी के लिए तैयार कर दिया गया है
बता दें कि मौसम विभाग ने उत्तरी-पश्चिमी भारत में आंधी-तूफान और भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसकी उसकी शुरुआत राजस्थान के बीकानेर से शुरू हो गई है। यहां के मौसूम में अचानक बदलाव आ गया है। रेत के गुबार को आसमान में साफ तौर पर देखा जा सकता है।
चमोली में आंधी-तूफान, गुजरात के दो तीर्थयात्री घायल
तेज वर्षा के साथ आज दोपहर बाद आए आंधी तूफान से जिला मुख्यालय गोपेश्वर समेत चमोली जिले के कई इलाकों में पेड़ टूटने से रास्ते अवरुद्ध हो गये जबकि गुजरात के दो तीर्थयात्री भी पेड़ की टहनियों के नीचे दबने से घायल हो गये।
चमोली जिले के तहसीलदार सोहन लाल रांगड ने बताया कि आंधी—तूफान के दौरान छेत्रपाल गांव के समीप एक दुकान के बाहर खाना खा रहे गुजरात के दो तीर्थयात्रियों पर पेड़ की टहनियां गिर गयीं ?जिससे वे घायल हो गये। दोनों को उपचार के लिए अस्पताल पहुंचा दिया गया है।
तेज हवा में गोपेश्वर में कुछ स्थानों पर भवनों की छतें भी उड़ गईं। गोपेश्वर में कुण्ड कॉलोनी में एक आवासीय भवन पर, आपदा भवन गोपेश्वर के नजदीक सड़क पर, पी जी कॉलेज के पास तथा छेत्रपाल गांव में सड़क पर पेड़ गिरने से मोटर मार्ग अवरुद्ध हो गए। हालांकि, जल्द ही उन्हें आवागमन के लिए दोबारा खोल दिया गया।
गोपेश्वर जल निगम कॉलोनी में कुछ भवनों की छतें उड़ गई तथा तहसील चमोली को पैदल जाने वाले रास्ते पर पेड़ गिर गये। जिले के पीपलकोटी कस्बे मे ग्रेफ के कैंप के पास विद्युत पोल टूटने से राज मार्ग भी कुछ देर के लिए बाधित हुआ।

Please follow and like us:
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *