मजबूरी में शरीर का सौदा लव सोनिया

Please follow and like us:

मुम्बई (खबर संसार)
भारत के सूखा ग्रस्त गांव में रहने वाला कर्ज में डूबा एक किसान आदिल हुसैन गरीबी और निराशा से भरा है। गंभीर परिस्थितियों के बावजूद उनकी बेटीया, सोनिया ;मृणाल ठाकुर और प्रीती खुश रहती हैं। लेकिन उनकी भावनाएं तब हिल जाती हैं जब बदनसीब पिता पैसे के लिए स्थानीय मकान मालिक को प्रीती को बेचने का फैसला करता है। सीधी और आशावादी सोनिया बिना आगे आने वाली परेशानियों को ध्यान में रखते हुए अपनी लापता बहन को ढूंढने के लिए निकल जाती है। उसकी खोज उसे मुंबई के अंधेरे इलाकों में, सेक्स व्यापार और वेश्यावृत्ति की भयानक दुनिया में खींच लेती है। फिल्म जागरूकता के स्तर पर अच्छी तरह से काम करती है और इसमें निश्चित एक हैरानी है लेकिन ये भावनात्मक रूप से आकर्षक नहीं है। बहनों के बीच का बंधन उतना नहीं दिखाया गया कि आप उनके अलग होने से खुद को जोड़ पाएं। इसके अलावा फिल्म में जो पसंद नहीं आएगा वो है कहानी की कुछ चीजें जबरन है और कहानी पहले से समझ आ जाती है। यह व्यवस्थित रूप से नहीं लगेगी। पहले कुछ सीन के लिए लगता है कि लड़कियां सीधी और भोलेपन की एक्टिंग कर रही हैं। ऐसा भी लगेगा की उन्हें एक साथ बांध दिया है ताकि एक तरह की प्रतिक्रिया उत्पन्न की जा सके।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *