राज्य स्थापना के 18 वर्ष पूर्ण होने पर सीएम व राज्यपाल ने प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं

Please follow and like us:

देहरादून (खबर संसार)।
राज्य स्थापना दिवस के  18 वर्ष पूर्ण होने पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने राज्य स्थापना दिवस की शुभकामनाएं दी। उन्होंने राज्य आन्दोलनकारियों को भी नमन किया। राज्यपाल ने अनुशासित और भव्य पुलिस परेड के लिए पुलिस परिवार को बधाई दी। राज्यपाल ने कहा कि 18 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर हमें ईमानदारी से मूल्यांकन करना होगा तथा आगे बढ़ने का लक्ष्य निर्धारित करना होगा। अपनी स्थापना के 18 वर्षों में उत्तराखण्ड ने विकास के कई मापदण्डों पर अच्छा प्रदर्शन किया है परन्तु फिर भी कई चुनौतियां अभी भी है जिनका समाधान किया जाना जरूरी है। राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने कहा कि राज्य के मैदानी और पर्वतीय क्षेत्रों के मध्य आर्थिक-सामाजिक विकास के गैप को मिटाना होगा। पर्वतीय क्षेत्रों में महिलाओं और युवाओं के हाथों में रोजगार देकर ही इस कार्य को किया जा सकता है। उन्होंने युवाओं का आहवान किया कि वे प्रदेश और देश के विकास में योगदान दें। राज्यपाल ने राज्य निर्माण में मातृशक्ति के योगदान का उल्लेख करते हुए ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओÓ अभियान को शत प्रतिशत सफल बनाने का आहवान भी किया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने अपने संबोधन में राज्य स्थापना के 18 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर सभी प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड आज 18 वर्ष पूर्ण कर रहा है और किशोरावस्था से यौवन की ओर आगे बढ़ रहा है। राज्य निरंतर प्रगति करता रहेगा, ऐसा विश्वास है। इस अवसर पर हम उन नौजवानों को भी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं जिन्होंने राज्य के लिए अपना बलिदान दिया। हम सभी राज्य आंदोलनकारियों को जिन्होंने राज्य निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया, शुभकामनाएं देते हैं। उत्तराखंड पुलिस ने नए नए आयाम स्थापित किए हैं। चाहे साइबर क्राइम हो या अन्य अपराध उत्तराखंड पुलिस ने पूरे समर्पण के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया है। उत्तराखंड पुलिस बधाई की पात्र है। पुलिस द्वारा देवभूमि की गरिमा का सम्मान रखते हुए अपनी भूमिका का निर्वहन किया गया। चाहे आपदा का समय हो या सामान्य परिस्थितियां जब कभी भी आवश्यकता पड़ी उत्तराखंड पुलिस ने अनुशासित भाव से अपने कर्तव्यों का पालन किया। आज हमारे सामने अनेक चुनौतियां हैं जिस तरह से उत्तराखंड में परिवर्तन आ रहे हैं। तकनीकी का इस्तेमाल बढ़ रहा है। अपराधी भी तकनीकी एक्सपर्ट हो रहे है। हमें अपराधियों को अपनी निगरानी व राडार में रखना है। पूरा विश्वास है कि उत्तराखंड पुलिस इस कार्य में पूरी तरह सफल होगी। हमारे राज्य के दो थानों को देश के टॉप 10 सर्वोत्तम थानों में स्थान मिला है। इसके पश्चात मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कचहरी परिसर देहरादून पहुंचकर राज्य आंदोलनकारी शहीद स्मारक पर श्रद्धासुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने दो पुलिस पत्रिकाओं का विमोचन भी किया। कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, धन सिंह रावत, सांसद डा. रमेश पोखरियाल निशंक, मुख्य सचिव उत्पल कुमार, डी.जी.पी अनिल रतूडी सहित बड़ी संख्या में विधायकगण, वरिष्ठ अधिकारीगण, जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *