कई प्रकार के होते हैं पिंपल

नई दिल्ली (खबर संसार)

पिंपल ना केवल चेहरे की खूबसूरती को कम कर देते हैं बल्कि चेहरे की चमक को भी फीका कर देते है। ऐसे में चेहरे पर पिंपल एक बड़ी समस्या बन जाते हैं। पिंपल्स कई तरह के होते हैं और इनके इलाज भी अलग तरह से होते हैं। कुछ पिंपल्स आसानी से ठीक हो जाते हैं तो कुछ के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है।
कुछ पिंपल सफेद परत के साथ गुलाबी और थोड़े लाल और पस से भरे होते हैं। ये बैक्टीरिया के कारण हो जाते हैं। बैक्टीरिया की वजह से सूजन हो जाती है और पस जाता है। इसे बेंजोयल पैरोक्साइड और सेलिसिलिक एसिड से ठीक किया जा सकता है।
इसके बाद गांठ वाली पिंपल हो जाते हैं जो सबसे ज्यादा परेशान करते हैं। ये त्वचा के अंदर तक जाते हैं। साथ ही पोर्स को बंद कर देते हैं। ये लाल और सफेद ब्लड सेल्स से भरे होते हैं और इव्हें ठीक होने में महीना भर लग जाता है। इसके लिए किसी अच्छे स्किन स्पेशलिस्ट को ही दिखाना होता है।
लाल रंग के यह पिंपल्स बीच में से पीले या सफेद होते हैं। जब पोर्स के अंदर बिल्कुल गहराई में ऑयल और बैक्टीरीया पहुंच जाते हैं, तब व्हाइट ब्लड सेल्स इस इंफेक्शन से लडऩे की कोशिश करते हैं। इस तरह के पिंपल्स पर ध्यान देना बहुत जरूरी है और इनका इलाज स्किन स्पेशलिस्ट के बताये उपायों द्वारा ही किया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *