आज और कल बैंकिंग सेवाएं रहेंगी ठप !

नई दिल्ली (खबर संसार)

क्या आपको पता हैं, 8 जनवरी मंगलवार और 9 जनवरी बुधवार को तकरीबन 20 बैंक कर्मचारी हड़ताल पर रहेंगे। इस हड़ताल की वजह से बैंकिंग सेवाओं पर असर पड़ सकता है। हड़ताल पर गए श्रमिक संगठनों का आरोप हे कि वर्तमान केंद्र सरकार की नीतियां श्रमिक विरोधी हैं। केंद्र की नीतियों के खिलाफ 10 कर्मचारी संगठनों ने दो दिनों की देशव्यापी हड़ताल बुलायी है, जिसे बैंक कर्मचारी संगठनों का एक धड़ा समर्थन दे रहा है, इस हड़ताल में करीब 20 करोड़ कर्मचारी शामिल होंगे। बैंक कर्मियों के अतिरिक्त शिक्षा, स्वास्थ्य, टेलीकॉम, कोल, स्टील, बैंकिंग, इंश्योरेंस और ट्रांसपोर्ट सेक्टर के श्रमिक संगठनों के कर्मचारी भी हड़ताल में शामिल हैं। बता दें कि दिसंबर 2018 के आखिरी दिनों में बैंककर्मी हड़ताल पर गए थे और अन्य छुट्टियों के कारण बैंक बंद रहने से ग्राहकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा था। इस बारे में आईडीबीआई बैंक ने बीएसई को बताया कि ऑल इंडिया बैंक इंप्लॉईज एसोसिएशन (एआईबीईए) तथा बैंक इंप्लॉईज फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीईएफआई) ने इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (आईबीए) को इस हड़ताल में उनके शामिल होने की सूचना दी है। इलाहाबाद बैंक ने भी बीएसई को बताया कि मुद्दे और मांगें उद्योग जगत के स्तर की हैं और हड़ताल का आह्वान भी उद्योग के स्तर पर ही किया गया है। इसलिए अगर हड़ताल की जाती है, तो बैंक की गतिविधियां प्रभावित हो सकती हैं। हालांकि बैंक दो दिनों की संभावित परिस्थितियों में सेवा सुचारू रूप से चलाते रहने की हर संभव तैयारियों में जुटा है। बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने भी दो दिनों की आगामी हड़ताल की अवधि में उसकी कुछ शाखाओं में कामकाज पर असर पडऩे की आशंका जताई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *