मशीनी वर्फ से मना स्नो डे

Sharing is caring!

औली (खबर संसार)
कुदरत की मार के चलते पहली बार विश्व प्रसिद्व औली में मशीन से वर्फ बना स्नो डे मनाया गया। अन्यथा जनवरी के महीने में औली में 4-5 फीट बर्फ होती थी। वैज्ञानिकों के अनुसार मौसम चक्र में बदलाव के कारण बर्फ गिरने का समय बदल गया है। भारत, आस्ट्रिया, जापान, पौलेंड, लिथोआनिया, चीन, कजाकिस्तान, दक्षिण कोरिया समेत दुनिया के 45 देशों में 21 जनवरी को वल्र्ड स्नो डे के रूप में मनाया जाता है। जबकि औली में आईटीबीपी हर साल स्नो डे मनाती है। आईटीबीपी औली के प्रधानाचार्य गंभीर सिंह चौहान ने बताते है कि जनवरी में औली बर्फ से लकदक रहती थी। लेकिन इस बार कृत्रिम बर्फ से स्नो डे मनाना पड़ा।

Please follow and like us:
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *