एनडीए में फूट पर अकाली दल की सफाई

Please follow and like us:

नई दिल्ली (खबर संसार)
राज्यसभा के उपसभापति चुनाव के लिए एनडीए अपना उम्मीदवार उतार चुकी है और विपक्षी दल आज इसके लिए नाम की घोषणा कर सकते हैं। एनडीए की तरफ से नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल युनाइटेड के सांसद हरिवंश को राज्यसभा के उपसभापति चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया गया है लेकिन इसकी आधिकारिक घोषणा से पहले ही इस पर एतराज सामने आने लगा है। एनडीए की अहम सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल इस नाम से सहमत नहीं है और वह अपनी पार्टी का उम्मीदवार उतारना चाहती है। इस मामले पर अकाली दल ने बैठक की लेकिन कोई स्पष्टï फैसला नहीं हो पाया है। आज शाम को एक बार फिर पार्टी की बैठक होगी। इसके ठीक बाद ही प्रेम सिंह चंदुमाजरा एसएडी ने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं है हम एनडीए से अलग नहीं हैं। न तो हमने अपने उम्मीदवार से अनुरोध किया और न ही बीजेपी के साथ हमारे साथ कोई असहमति थी ये सभी अफवाह हैं। इसके अलावा शिवसेना से इस नाम पर सलाह न लेने के कारण वह नाराज चल रही है। खबर के मुताबिक बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने हरिवंश के नाम पर सहमति के लिए शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से खुद बात की है। कहा जा रहा था कि अकाली दल इस चुनाव में वोटिंग नहीं करेगा। ऐसा पहली बार होता जब अकाली दल एनडीए के लिए वोट नहीं करता। बता दें कि राज्यसभा में पार्टी के 3 सासंद हैं। वहींए शिवसेना भी नाराज चल रही है जो अविश्वास प्रस्ताव के दौरान दूरी बनाए हुए थी। इस चुनाव में भी ये पार्टी दूरी बनी सकती है। बता दें कि राज्यसभा में सरकार के पास बहुमत नहीं है। ऐसे में दो पार्टियों अकाली दल और शिवसेना का वोटिंग से अलग रहना एनडीए को भारी पड़ सकता है और चुनाव जीतना मुश्किल हो जाएगा। विपक्ष के पास एनडीए से अधिक संख्या है।चुनाव परिणाम बीजेडीए एआईएडीएमकेए तेलंगाना राष्ट्र समिति और वाईएसआर कांग्रेस जैसी पार्टियों के रुख पर निर्भर करेगाए जो खास परिस्थितियों में सरकार के साथ गठजोड़ कर सकती हैं। इसके साथ ही विपक्षी एकता का एक बार फिर परीक्षण है। राज्यसभा में कुल 245 सीटें हैं एनडीए के पास 115 सीटें हैं। इनमें से 73 सीटें बीजेपी के पास हैं। वहीं यूपी के पास कुल 113 सीटें हैं इसमें सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस है जिसमें राज्यसभा में 30 सांसद हैं और अन्य दलों के पास 16 सीटें हैं।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *