रामड़ी जसवा में जल संरक्षण के कार्यो का अपर सचिव ने किया मुआयना

हल्द्वानी, खबर संसार। अपर सचिव पेयजल एवं सैनिटेशन डा0 सुखबीर सिह संधु ने विकास खण्ड के रामड़ी जसवा पहुचकर जल संरक्षण एवं संवर्धन हेतु किये गये विकास कार्यो का बुधवार को मौकामुआयना किया। संधु के आगमन पर स्वयं सहायता समूह की महिलाओं कुमाऊंनी परम्परागत तरीके से उनका अक्षत रोली से स्वागत किया।

श्री संधु ने ग्राम रामड़ी जसवा में उद्यान विभाग द्वारा विकसित पपीते उद्यानीकरण प्रक्षेत्र का एवं कृषि विभाग द्वारा निर्मित टैंक तथा माइक्रो इरीगेशन कार्य का निरीक्षण किया। उन्हाेंने कहा कि पपीते की आधुनिकतम खेती जो कि इस गांव मे कम पानी का प्रयोग कर की जा रही है वह अन्य काश्तकारो के अनुकरणीय है। उन्होने कहा प्रदेश सरकार को चाहिए कि वह छोटे काश्तकारों को यहा लाकर पपीते की खेती का भ्रमण कराये ताकि काश्तकार परम्परागत खेती के अलावा फलों की खेती की तरफ भी अपना रूझान बनायें।

गांव मे आयोजित स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को सम्बोधित करते हुये श्री संधु ने कहा कि बदलते दौर मे जहां हमारी आवश्यतायें बढी है ऐसे में पानी का प्रयोग एवं उसका दुरूपयोग भी बढा है। हम आवश्यकता से ज्यादा पानी का इस्तेमाल कर रहे है यदि यही हालात रहे तो वह दिन दूर नही जब पानी के लिए लोग हिंसा पर भी उतर जायेंगे। उन्होने कहा कि महिलाये पानी बचत एवं उसके दुरूपयोग रोकने के लिए सक्षम माध्यम है। उन्होने महिलाओ से कहा कि वह पानी की बचत के लिए लोगो को जागरूक करने के लिए आगे आयें।

श्री संधु ने मुख्य उद्यान अधिकारी भावना जोशी से कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों मे फलों की पटिटया विकसित कर काश्तकारो को लाभ पहुचाये इससे स्थानीय रोजगार तो बढेगा ही साथ ही प्रदेश का आर्थिकी तंत्र भी मजबूत होगा।

अपने सम्बोधन मे ब्लाक प्रमुख आनन्द दरम्वाल ने कहा कि भारत सरकार की अनेकों ऐसी जनकल्याणकारी योजनाये जो गांवो के विकास के लिए संचालित है। उन्होने सभी से अपील की कि वह सरकारी योजनाओं का लाभ उठाये और विकास में शामिल हों।

इस अवसर पर जानकारी देते हुये मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने बताया कि संजय तिवारी के खेत पर पपीते का औद्यानिकरण एवं ड्पि सिचाई कार्य किया गया है, 6.89 हेेक्टेयर क्षेत्रफल मे 7.66 लाख की लागत से 7655 पपीते के पौधे रोपित किये गये है। जानकारी देते हुये खण्ड विकास अधिकारी डा0 निर्मला जोशी ने बताया कि गिरीश चन्द्र उपाध्याय के खेत पर 2.06 लाख की लागत से सिचाई तालाब का निर्माण किया गया है इस तालाब की क्षमता 35 हजार लीटर है।

केन्द्र सरकार से आयी हुई टीम के सदस्य मृत्युजय झा तथा टी थामस ने देर सायं विकास खण्ड के रामड़ी जसवा, बसानी तथा चैसला ग्रामों जाकर जल संग्रह टैंको एवं अन्य विकास कार्यो का निरीक्षण किया।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी विवेक राय,गिरीश उपाध्याय,सहायक खण्ड विकास अधिकारी आरसी जोशी, सहायक विकास अधिकारी बसंत मेहता, सारिका जोशी के अलावा बडी संख्या मे क्षेत्रवासी एवं ग्रामवासी मौजूद थे।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *