सबका साथ-सबका विकास ये हैं अन्त्योदय का जीपीडीपी प्लान

देहरादून, खबर संसार। उत्तराखण्ड में ‘‘सबका साथ-सबका विकास’’ जनयोजना अभियान 2 दिसम्बर 2019 से 2 मार्च 2020 तक चलाया जाएगा। इसमें मिशन अन्त्योदय सर्वे और जीपीडीपी प्लान तैयार किया जाएगा।

इसमें मिशन अन्त्योदय सर्वे एप द्वारा राज्य की समस्त ग्राम पंचायतों का सर्वे कार्य किया जाएगा। सर्वे से प्राप्त गैप रिर्पोट को ग्राम सभा की खुली बैठकों में रखते हुये गैप पूर्ति के लिए पंचायती राज विभाग, द्वारा ग्राम पंचायत विकास योजना (जीपीडीपी) तैयार की जाएगी।

शुक्रवार को सचिवालय स्थित एफआरडीसी सभाकक्ष में जीपीडीपी अभियान की बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास श्रीमती मनीषा पंवार ने ब्लॉक स्तर पर ग्राम प्रधानों की ओरिएंटेशन कार्यशाला आयोजित करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत विकास योजना में उन्हीं कार्यों के प्रस्ताव किए जाएं जो कि संबंधित विभागों के मानकों के अंतर्गत आते हों। अभियान में सीएसआर में काम कर रही संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाए। हर घर को नल से जल की आपूर्ति पर विशेष ध्यान दिया जाए।

पहले यह अभियान 2 अक्टूबर से 31 दिसम्बर तक चलाया जाना था

बताया गया कि वैसे यह अभियान 02 अक्टूबर 2019 से 31 दिसम्बर 2019 तक चलाया जाना था परंतु उत्तराखण्ड में त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन की आदर्श आचार संहिता के कारण राज्य में उक्त अभियान 02 दिसम्बर, 2019 से 02 मार्च, 2020 तक संचालित किया जाएगा।

समस्त गतिविधियों को अभियान के तौर पर संचालित किया जायेगा तथा समस्त गतिविधियों की फोटोग्राफी, विडियोग्राफी एवं अभिलेखीकरण अनिवार्य रूप से किया जायेगा तथा योजना के वेब पोर्टल  (www.gpdp.nic.in/missionantodaya.nic.in½  पर प्रतिदिन अपलोड किया जायेगा।

सर्वे कार्य प्रारम्भ करने से पहले ग्राम पंचायत वार, सर्वेकर्ता की टीम तैयार कर मिशन अन्त्योदय मोबाइल एप्प का प्रशिक्षण दिया जाना अनिवार्य होगा। विकास खण्ड द्वारा सर्वेकर्ताओं का चयन किया जायेगा। सर्वेकर्ता के रूप में सीआरपी/जीआरएस/बीएफटी तथा उच्च शिक्षण संस्थानों के छात्रों का चयन किया जा सकता है।

सर्वे कार्य नियत समय में पूर्ण करना तथा सर्वे डाटा को मोबाईल एप्प से डाउनलोड कर सर्वे रिपोर्ट की प्रतिलिपि को ग्राम सभा की खुली बैठक में अनुमोदन के लिए रखा जायेगा। सर्वे रिपोर्ट में ग्राम सभा यथा आवश्यकता संशोधन कर सकती है। ग्राम सभा से अनुमोदित सर्वे रिपोर्ट को सर्वेकर्ता द्वारा मिशन अन्त्योदय पोर्टल पर त्रुटिरहित अपलोड कराना सुनिश्चित करेंगे। सर्वे से पूर्व समस्त ग्राम पंचायतों तथा उनमें सम्मिलित राजस्व ग्राम का एलजीडी  कोड मैपिंग करना अनिवार्य होगा।

02 दिसम्बर से 02 मार्च, 2020 तक अभियान के लिए अपर सचिव/आयुक्त, ग्राम्य विकास उत्तराखण्ड शासन  राज्य स्तर पर नोडल अधिकारी (मिशन अन्त्योदय सर्वे अभियान) के रूप में कार्य करेगें। जबकि अपर सचिव/निदेशक, पंचायती राज उत्तराखण्ड शासन नोडल अधिकारी (जनयोजना अभियान (पीपीसी-2019) सबकी योजना सबका विकास) के रूप में कार्य करेगें।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *