भाजपा के प्रति सहानुभूति विपक्ष को बदनाम करने की मुहिम!

नई दिल्ली (खबर संसार) चुनाव से पहले तेजस्वी यादव की अपील राजद नेता ने विपक्षी नेताओं से आग्रह किया कि वे न्यूज चैनलों के इस अभियान के खिलाफ एकजुट और सामूहिक रुख अपनाएं। तेजस्वी ने इस बाबत बीते 8 मार्च को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, बसपा प्रमुख मायावती, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लिखे पत्र को अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा करते हुए कहा कि साथियों! एक तरफ जहां हम भुखमरी, बेरोजगारी, किसान और सामाजिक न्याय से जुड़े मुद्दे उठा रहे हैं वहीं मुख्यधारा की मीडिया का एक बड़ा वर्ग भाजपा मुख्यालय द्वारा तय एजेंडे के तहत इन सरोकारों पर पर्दा डाल रहा है। आइए हम सामूहिक रूप से उन चैनलों का बहिष्कार करने का निर्णय लें…।

भुखमरी, बेरोजगारी, किसान और सामाजिक न्याय से जुड़े मुद्दे

राजद नेता ने अपने पत्र में लिखा है, ”मैं आप सबको ये पत्र कई न्यूज चैनलों पर शाम के वक्त होने वाली बहस को लेकर लिख रहा हूं। जैसा कि आप जानते हैं इन चैनलों पर हर रोज शाम के वक्त एक खास उद्देश्य के तहत विपक्षी पाॢटयों को बदनाम करने का कुचक्र रचा जाता है, ऐसे में अब ये एक प्रत्यक्ष सत्य है कि मीडिया का एक बड़ा तबका भाजपा को चुनावी फायदा पहुंचाने के लिए काम कर रहा है।ÓÓ उन्होंने लिखा, ”किसी भी बहस में इस बात की उम्मीद की जाती है कि विपक्षी पाॢटयां भी किसी मुद्दे पर अपनी राय रख सकेंगी। लेकिन जिस तरह से बहस को आगे बढ़ाया जाता है, उसमें साफ दिखता है कि उनका झुकाव सिर्फ एक पार्टी को फायदा पहुंचाने की तरफ है।
तेजस्वी ने लिखा, ”ऐसे हालात में मुझे नहीं लगता है कि इन न्यूज चैनलों पर निष्पक्ष बहस की कोई गुंजाइश भी बची है। इन बहसों में विपक्षी नेताओं की मौजूदगी सिर्फ इस वजह से रखी जाती है, जिससे कि वे अपनी झूठ पर फर्जी विश्वसनीयता का पर्दा डाल सकें। मुझसे कई सीनियर पत्रकारों ने भी कहा है कि ऐसे चैनलों में पत्रकारिता के मानदंडों को पूरी तरह से ताक पर रख दिया गया है।

ताजा खबरें पढ़ने लिए क्लिक करें   भारतीय स्टेट बैंक समेत अन्य वित्तीय संस्थानों की खिंचाई!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *