बीजेपी का घोषणापत्र ‘झांसापत्र’ और झूठ का गुब्बारा : अहमद पटेल

नई दिल्ली (खबर संसार)| बीजेपी द्वारा 2019 लोकसभा चुनाव के लिए जारी घोषणापत्र पर कांग्रेस ने जमकर हमला बोला है। कांग्रेस ने इसे ‘झांसापत्र’ और झूठ का गुब्बारा करार दिया है।पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि इससे अच्छा होता कि बीजेपी माफीनामा जारी कर लेती।

अहमद पटेल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के घोषणापत्र में कहा गया है कि अब न्याय होगा और अब न्याय होकर रहेगा। उन्होंने कहा, ‘झूठ का गुब्बारा ज्यादा समय तक नहीं चलने वाला है। सब लोगों को हमेशा के लिए गमुराह नहीं किया जा सकता है।’

एक प्रेस कॉन्फ्रेस में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने कहा, ‘बीजेपी और कांग्रेस के घोषणापत्र में साफ अंतर देख सकते हैं। कवर पेज पर हमारे घोषणापत्र में लोगों की भीड़ है लेकिन बीजेपी के घोषणापत्र में केवल एक आदमी है।’ उन्होंने कहा कि बीजेपी का घोषणापत्र झूठ का गुब्बारा है। उन्होंने कहा, ‘बीजेपी का घोषणापत्र साइट पर ही रह जाता है। कभी चायवाला, कभी चौकीदार, कभी कामदार और कभी फकीर और कभी कुछ और कहकर देश के लोगों को गुमरा किया जा रहा है।’

पटेल ने कहा, ‘बीजेपी जो वादे करती है वह कभी निभाती नहीं है। जिस तरह के वादे किए गए हैं, यह चलने वाला नहीं है। 5 साल में बीजेपी को हिसाब देना चाहिए कि बेरोजगारी, किसानों और व्यापारियों के लिए जो वादे किए गए हैं उनका क्या हुआ। रोजगार के लिए कोई ठोस कदम इसमें नहीं है। बीजेपी के इस घोषणापत्र का देश से वास्ता नहीं है। बहुत हो गया है, देश की जनता अच्छी तरह से आपको जान चुकी है।’

कांग्रेस एक अन्य वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला ने बीजेपी के घोषणापत्र को जुमला और झांसों का पत्र कहा है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने एक बार फिर झांसा पत्र तैयार किया है और देश की जनता उनको खारिज करेगी। सुरजेवाला ने 2014 में बीजेपी द्वारा किए गए वादों की जिक्र कर कहा कि इस घोषणापत्र में काले धन पर बीजेपी चुप है। बेरोजगारी पर भी कोई बात नहीं की गई है। सुरजेवाला ने कहा कि झांसे में फांसो मोदी का मूलमंत्र है।

ताजा खबरें पढ़ने लिए क्लिक करें

ताजा खबरों के लिए चैनल को सब्सक्राइब करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *