हल्द्वानी में श्री श्री रविशंकर जी का महासत्संग 8 मार्च को !

हल्द्वानी (खबर संसार)
प्रथम बार हल्न्द्वानी आ रहे हैं श्री श्री रविशंकर जी
महासत्संग का विशाल आयोजन

पहली बार हल्द्वानी आगमन पर गान,ज्ञान व ध्यान से परीपूरित महासत्संग का आयोजन एमबीइंटर कॉलेज ग्राउंड में 8 मार्च 2019 को सायं 4 बजे से किया गया है। द आर्ट ऑफ लिविंग संस्था के उत्तराखंड अपेक्स बॉडी के मेंबर धीरेंद्र कबड़वाल ने जानकारी देते हुए बताया कि श्री श्री रविशंकर जी का प्रथम बार हल्द्वानी आगमन है,

उसी उपलक्ष्य में महासत्संग का आयोजन किया गा है। संस्था ने हल्द्वानी में 2006 में गुरू जी के कार्यक्रमों की शुरूआत की। श्री श्री रविशंकर जी द्वारा स्थापित द आर्ट ऑफ लिविंग (जीवन जीने की कला)व्यक्ति,समाज,राष्ट्र एवं विश्व के सर्वागीण विकास में प्रतिबद्धतापूर्वक लगा हुआ एक गौरलाभकारी,शैक्षिक व मानवतावादी संगठन है,जो योग सत्संग सेवा के माध्यम से शरीर,मन को स्वस्थ बनाने,मानवीय गुणों को उभारने तथा आनंद से व्यक्तियों की सहायता करता है।

संस्था के कार्य विश्व के 156 देशों में विस्तार लिए हुए हैं जिसके कार्यक्रमों से हर धर्म,जाति, संस्कृति आदि के 37 करोड़ से अधिक लोग लाभन्वित हुए है। श्री श्री रविशंकर जी को वर्ष 2016 में पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित किया गया। साथ ही द आर्ट ऑफ लिविंग को लगभग 10 से ज्यादा देशों में सर्वोच्च राष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित किया गया है,जिसमें कोलंबिया,हंगरी, मंगोलिया,आदि कई देश शामिल है। गुरू जी के द्वारा 40 नदियों को भी पुनर्जीवित किया गया है। गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में भी द आर्ट ऑफ लिविंग के सांस्कृतिक कार्यक्रमों को स्थान मिला है।

संस्था हल्द्वानी में प्रतिमाह हैप्पीनेस कार्यक्रम आयोजित करती है,साथ ही स्वास्थ्य,स्वच्छता,शिक्षा,ग्रामीण विकास, पर्यावरण संरक्षण,कला-संस्कृति ,आदि कार्यक्रम भी संस्था आयोजित करती रहती है। प्रेस वार्ता में दीपक गुप्ता,आर.एस.कालाकोटी,उद्योग भारती,भूषण तिवारी,रवि जोशी,दीपक सुयाल, हिमांशु उपाध्याय,आदि उपस्थित थे।

ताजा खबरें पढ़ने लिए क्लिक करें  -ऐसे हुई युवा समाजसेवी की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *