मैं कुछ नहीं मांगता मैं मांगने की प्रवृत्ति से सहमत भी नहीं हूं -मोदी

नई दिल्ली (खबर संसार)। इन दिनों पीएम मोदी बदरीनाथ धाम के दर्शन करने के बाद दिल्ली को रवाना हो गए। इससे पहले सुबह उन्होंने केदारनाथ में पत्रकारों से कहा कि, मैंने केदारनाथ से कुछ नहीं मांगा। मैं मांगने की प्रवृत्ति से सहमत नहीं हूं। मोदी ने कहा कि केदारनाथ का विकास मास्टर प्लान के तहत हुआ है और यहां पुननिर्माण में समर्पित टीम लगी हुई है।

गुफा में 17 घंटे की साधना

प्रधानमंत्री ने शनिवार दोपहर बाद मंदिर से डेढ़ किमी दूरी पर स्थित ध्यान गुफा में साधना शुरू की थी। रविवार सुबह 17 घंटे की साधना के बाद वह केदारनाथ मंदिर पहुंचे। इसके बाद उन्होंने एक बार फिर केदारनाथ के दर्शन किये। केदारनाथ के दर्शन के बाद मोदी पत्रकारों से रूबरू हुए।

चुनाव आयोग का आभार जताया
पत्रकारों से बात करते हुए मोदी ने सबसे पहले चुनाव आयोग की अनुमति का आभार व्यक्त किया कि, चुनाव के बीच उन्हें यहां आने का मौका मिला। यह पूछे जाने पर कि बाबा केदार से आपने क्या मांगा, मोदी बोले, मैं कुछ नहीं मांगता । मैं मांगने की प्रवृत्ति से सहमत भी नहीं हूं । क्योंकि उसने आपको मांगने योग्य नहीं, देने योग्य बनाया है। ईश्वर ने उसे देने योग्य क्षमता दी है, उसे वह समाज को देना चाहिए।

यहां आना मेरा सौभाग्य

मोदी ने कहा कि यह उनका सौभाग्य है कि केदारनाथ की आध्यात्मिक चेतना की भूमि पर उन्हें कई वर्षों से आने का अवसर मिलता रहा है । गुफा में बिताये समय का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, इस दौरान वह बाहर के वातावरण से पूरी तरह कटे रहे। वहां कोई कम्युनिकेशन नहीं था। गुफा की एक छोटी सी खिड़की से 24 घंटे केदारनाथ के दर्शन होते रहते हैं।

ताजा खबरें पढ़ने लिए क्लिक करें

ताजा खबरों के लिए चैनल को सब्सक्राइब करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *