बच्चों के मामलो को मजाक न समझे अधिकारी अच्छी तरह से कार्य करें

रूद्रपुर, खबर संसार। उत्तराखण्ड बाल संरक्षण अधिकार आयोग की अध्यक्ष उषा नेगी द्वारा आज कलेक्ट्रेट सभागार मे अधिकारियो की बैठक ली व आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होने कहा बच्चो के मामलो को मजाक न समझे सभी अधिकारी इच्छाशक्ति व दृढ संकल्प के साथ कार्य करे।

शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होने कहा शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्तर्गत पात्र छात्र-छात्राओ का दाखिला प्राईवेट विद्यालयो मे कराये। उन्होने कहा जो विद्यालय व मदरसे बिना मान्यता के चल रहे है, उनके खिलाफ कार्यवाही करते हुए उसकी सूची आयोग को भी उपलब्ध कराये। उन्होने कहा बच्चो के भविष्य के साथ जो खिलवाड करेगा उनके खिलाफ भी कार्यवाही की जायेगी।

उन्होने कहा यही बच्चे कल का भविष्य है इसके लिए विद्यालयो, हाॅस्टल, मदरसो आदि की नियमित चैकिग की जाए। उन्होने कहा हाॅस्टल मे बच्चो के रहने व खाने की व्यवस्था का जायजा बार-बार लिया जाए। उन्होने कहा आयोग द्वारा अधिकारियो को जो भी निर्देश दिये जाते है, उनका पालन करना सुनिश्चित करे। अध्यक्षा द्वारा कुपोषित बच्चो के लिए किये जा रहे कार्यो की भी समीक्षा की गई। उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि इस समय डेगू का प्रकोप बढ रहा है इसलिए डेगू की रोकथाम हेतु कदम उठाये।

बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान के अन्तर्गत बच्चो  के अभिभावको के साथ मिलकर कार्य करे

उन्होने कहा बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान के अन्तर्गत बच्चो  के अभिभावको के साथ मिलकर कार्य करे। उन्होने एआरटीओ को निर्देशित करते हुए कहा कि स्कूल बसो मे निर्धारित सीटो के अनुसार ही बच्चो को बैठाये। उन्होने कहा सरकार द्वारा बच्चो के हितो हेतु जो भी योजनाएं चलाई जा रही है उसका फायदा उन्हे अवश्य मिले। उन्होने श्रम विभाग के अधिकारियो को निर्देश देते हुए कहा कि मजदूरो का पंजीकरण अवश्य करे ताकि मजदूरो को दी जाने वाली सुविधाओ का लाभ उन्हे दिया जा सके। उन्होने कहा विकलांगो को भी समाज की मुख्य धारा से जोडने के लिए कार्य किये जाए।

अपर जिलाधिकारी उत्तम सिंह चैहान ने बताया कि प्रथम चरण मे 100 सरकारी विद्यालयो मे सुरक्षा की दृष्टि से सीसीटीवी कैमरे लगाये जा रहे है साथ ही जनपद को नशामुक्त करने के लिए जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन द्वारा अभियान चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम की आयोग की अध्यक्षा द्वारा सराहना की गई।

बैठक मे आयोग की सदस्य सीमा डोरा, सीएमओ डा0 शैलजा भट्ट, एसएलओ एनएस नबियाल, जिला समाज कल्याण अधिकारी नवीन भारतीय, जिला प्रोवेशन अधिकारी वर्षा, एआरटीओ संदीप सैनी, जिला कार्यक्रम अधिकारी उदय प्रताप सिंह, मुख्य शिक्षा अधिकारी एके सिंह, सीओ सदर हिमांशु शाह डा0 रजनीश बत्रा, अमित श्रीवास्तव सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *