पाकिस्तान ने कहा, कुलभूषण को मुहैया कराई जाएगी राजनयिक मदद

इस्लामाबाद, खबर संसार। अंतरराष्ट्रीय कोर्ट के फैसले के बाद कुलभूषण जाधव के मामले में अपनी गलती सुधारने के लिए मजबूर हुआ पाकिस्तान अब खुद को ‘जिम्मेदार देश’ बता रहा है

जी हां, इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) के भारत के पक्ष में फैसला सुनाने के 24 घंटे बाद ही पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने गुरुवार देर रात बयान जारी किया। इसमें पाक मंत्रालय ने कहा है कि वह अपने देश के कानून के अनुसार भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच मुहैया कराएगा और इसके लिए कार्यप्रणाली पर काम हो रहा है।

गौरतलब है कि लगातार 16 बार पाकिस्तान ने जाधव को राजनयिक पहुंच देने से भारत को इनकार किया था। इसके बाद भारत ICJ पहुंचा और फिर अंतराष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान को मुंह की खानी पड़ी।

पाक मंत्रालय की ओर से यह भी बताया गया है कि जाधव को राजनयिक संबंधों पर वियना संधि के तहत उनके अधिकारों से अवगत करा दिया गया है। विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘आईसीजे के फैसले के आधार पर कुलभूषण जाधव को राजनयिक संबंधों पर वियना संधि के अनुच्छेद 36 के पैराग्राफ 1(बी) के तहत उनके अधिकारों के बारे में सूचित कर दिया गया है।

’ पाक मंत्रालय ने कहा, ‘एक जिम्मेदार देश होने के नाते पाकिस्तान कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान के कानूनों के अनुसार राजनयिक पहुंच मुहैया कराएगा, जिसके लिए कार्य प्रणालियों पर काम किया जा रहा है।’

एक तरफ ICJ का फैसला आने के बाद पाकिस्तान को भारत की बात मानने को मजबूर होना पड़ा है तो दूसरी तरफ वहां की सरकार और मीडिया इसे पाकिस्तान की जीत बता रहा है। इस पर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने तंज भी कसा है। उन्होंने कहा, ‘मुझे ऐसा लगता है कि वे किसी अन्य फैसले को पढ़ रहे हैं।

मुख्य फैसला 42 पेज का है और अगर उनके पास सभी 42 पेजों को पढ़ने का धैर्य नहीं है तो उन्हें फैसले को लेकर ICJ के 7 पेज की प्रेस रिलीज को पढ़ना चाहिए। हर पॉइंट भारत के पक्ष में है। प्रेस रिलीज के पहले ही पैराग्राफ में कहा गया है कि फैसला अंतिम है, बाध्यकारी है और इसके खिलाफ अपील नहीं हो सकती है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *