पीएम ने नासिक से चुनावी बिगुल फूंका, जनसभा को किया संबोधित

महाराष्ट्र, खबर संसार। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के नासिक से चुनावी बिगुल फूंका। यहां वह ‘महाजनादेश यात्रा समारोह’ में शामिल हुए और जनसभा को संबोधित किया।

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, ”नासिक की ये पवित्र धरती, महाराष्ट्र के कोटि कोटि जन मुझे आशीर्वाद दें जिससे इसकी इज्जत के लिए में अपनी जिंदगी खपा सकूं। आज मैं देख रहा हूं कि अप्रैल की रिकॉर्डतोड़ रैली से यह हमारा नासिक उससे भी आगे निकल गया है। जहां-जहां मेरी नजर पहुंच रही है लोग ही लोग नजर आ रहे हैं। देवेंद्र फडनवीस को आशीर्वाद देने के लिए यहां जनसागर उमड़ आया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ”आज मैं एक विशेष धन्यता अनुभव कर रहा हूं और मैं इसे अपने जीवन का बहुमूल्य पल मानता हूं। आज छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज छत्रपति उदयन ने मेरे सिर पर एक छत्र रखा है। ये सम्मान भी है और छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रति दायित्व का भी प्रतीक है।

उन्होंने कहा, ”देवेंद्र जी को 5 साल पहले आपने जो जिम्मेदारी दी थी उसका रिपोर्ट कार्ड उन्होंने आपके सामने रखा है। बीते 5 साल में महाराष्ट्र को स्थिरता मिली, विकास मिला, कानून-व्यवस्था का विश्वास मिला, सामाजिक सद्भाव मिला, सहकार और सरोकार का भाव भी मिला।

कहा, ”जब लोकसभा का चुनाव हुआ, तो 60 साल के बाद पहली बार एक सरकार दोबारा चुनकर आई और पहले से ज्यादा बहुमत के साथ चुनकर आई। जब आप ताकत देते हैं तो सरकार कैसे काम करती है, हमारी सरकार के प्रथम 100 दिन का कार्यकाल इसका उदाहरण है। केंद्र में नई सरकार को बनें 100 दिन पूरे हो चुके हैं और इस सरकार का पहला शतक आपके सामने है।

दुनिया के 100 से ज्यादा देशों को भारत में बनी बुलेट प्रूफ जैकेट निर्यात हो रहा- मोदी

‘दुनिया के 100 से ज्यादा देशों को आज भारत में बनी बुलेट प्रूफ जैकेट निर्यात की जा रही है। भाजपा सरकार का मतलब ही है देश की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता। हमारे लिए देश से बड़ा कुछ नहीं है।

कश्मीर को लेकर पीएम मोदी ने कहा, ”हमने पूरे देश से वादा किया था कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख की समस्याओं के समाधान के लिए नए प्रयास करेंगे। आज मैं संतोष के साथ कह सकता हूं कि देश उस सपनों को साकार करने की दिशा में चल पड़ा है। जम्मू कश्मीर में भारत के संविधान को समग्रता से लागू करना सिर्फ एक सरकार का फैसला नहीं है, ये 130 करोड़ भारतीयों की भावना का प्रकटीकरण है।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *