प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना श्रमिको के बुढापे का सहारा

रूद्रपुर (खबर संसार)। असंगठित कामगारों के लिए ”प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना” का शुभारम्भ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वस्त्राल, गुजरात से किया। प्रधानमंत्री ने कहा भव्य भारत के सच्चे निर्माता देश के 45 करोड श्रमिको के लिए यह योजना श्रमिको के बुढापे को मजबूत करेगी। उन्होने कहा जब शरीर काम करना बंद कर देता है, तब यह पेंशन सहारा बनेगी। उन्होने बताया यह योजना इतनी आसान बनाई गई है कि कोई भी गरीब व अनपढ व्यक्ति इस योजना से आसानी से जुड सकता है।

जनपद मे इस योजना का शुभारम्भ एपीजे अब्दुल कलाम सभागार मे क्षेत्रीय विधायक राजकुमार ठुकराल व मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा किया गया। विधायक राजकुमार ठुकराल ने कहा यह पेंशन योजना सरकार का अच्छा कदम है। उन्होने कहा जिन कामगारों को कोई पेंशन नही मिलती थी, उन लोगो के लिए यह सूर्योदय है। उन्होने कहा इस योजना मे लाभार्थियो को लाभान्वित करने के लिए इस योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए।

मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित ने बताया कोई भी असंगठित कामगार फेरी लगाने वाले, सडक किनारे काम करने वाले, रिक्शा चलाने वाले, दूसरो के घरो मे काम करने वाले, दुकानो मे काम करने वाले, मजदूरी करने वाले आदि लोग जिसकी आयु 18 से 40 वर्ष है तथा उसकी आय रू0-15000.00 से कम है, वह इस योजना मे शामिल हो सकता है। उन्होने बताया लाभार्थी के पास आधार कार्ड व बैंक खाता होना अनिवार्य है।

कॉमन सर्विस सेंटर मे करवाना होगा पंजीयन

उन्होने बताया इस योजना का लाभ लेने के लिए नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर मे अपना पंजीयन करवाना होगा, पंजीयन के बाद तुरन्त लाभार्थी का पेंशन कार्ड बन जायेगा। प्रथम किश्त रू0-55 से 200 तक का अंशदान लाभार्थी को नकद देना होगा तत्पश्चात आगे की किश्त 60 वर्ष की आयु तक लाभार्थी के खाते से कटेंगी। उतना ही अंशदान हर माह सरकार द्वारा खाते मे जमा किया जायेगा। कामगारो के 60 वर्ष आयु पूर्ण होने के बाद लगभग 03 हजार मासिक पेंशन के रूप मे लाभार्थी के खाते मे पहुंच जायेगी।

उन्होने बताया यदि पेंशन धारक की मृत्यु हो जाती है, तो उसकी पत्नी/पति को पेंशन का 50 प्रतिशत पारिवारिक पेंशन के रूप मे मिलेगा। सहायक श्रमायुक्त उमेद सिंह चैहान ने बताया इस योजना मे जनपद मे लगभग 50 हजार श्रमिको को योजना का लाभ दिया जाना है, अब तक कुल 1200 श्रमिको का पंजीकरण किया जा चुका है। उन्होने बताया इस योजना मे पंजीकरण के लिए जनपद मे 200 सीएससी को काम दिया गया है। इस अवसर पर पंजीकृत श्रमिको को पेंशन कार्ड भी उपलब्ध कराये गये।

इस अवसर पर कमिश्नर मुकेश कुमार गुप्ता, श्रम प्रर्वतन अधिकारी सुनील बब्बर, अनिल पुरोहित सहित जनपद के श्रमिक उपस्थित थे।

ताजा खबरें पढ़ने लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *