गुरु गोविन्द सिंह के 553वें प्रकाश पर्व पर शहर में निकाली गई शोभायात्रा

हल्द्वानी, खबर संसार। गुरु गोविंद सिंह जी का 353 वां प्रकाश पर्व पर गुरूद्वारा सिंघ सभा के तत्वावधान में रामलीला मैदान से शोभायात्रा निकाली गई।

जिलाधिकारी सविन बंसल ने चल रहे समागम एवं नगर कीर्तन में पहुॅच कर मत्था टेका उन्होंने ने कहा कि समाज के उत्थान एवं दीन-दुखियों के कल्याण हेतु गुरू गोविन्द सिंह द्वारा किए त्याग और सेवा के कार्यों से देश की युवा पीढ़ी को सीख लेनी चाहिए।

गौरतलब है कि गुरु गोबिंद सिंह को ज्ञान, सैन्य क्षमता और दूरदृष्टि का सम्मिश्रण माना जाता है। उनका जन्म पटना साहिब में हुआ था और वहां उनकी याद में एक खूबसूरत गुरुद्वारा भी निर्मित किया गया है। वे सिखों के दसवें और अंतिम गुरु थे। उन्होंने ही साल 1699 में खालसा पंथ की स्थापना की थी। उन्होंने ही गुरु ग्रंथ साहिब को सिखों का गुरु घोषित किया। गुरु साहिब ने सिख धर्म को जीवन के कुछ महत्वपूर्ण बिंदु बताये।

कार्यक्रम में मेयर डा0 जोगेन्दर पाल सिह रौतेला, मुख्यमंत्री के जनसम्पर्क अधिकारी विजय बिष्ट, सिटी मजिस्टेट प्रत्यूष सिह, एएसपी अमित श्रीवास्तव, अध्यक्ष रंजीत सिह, मेंबर नरेन्द्र जीत सिह, अमरजीत सिह, जगजीत सिह, रविन्दरपाल सिह, तजिन्दर सिह, बलविन्दर सिह, मनप्रीत सिह, जसपाल सिह कोहली, अवनीत सिह,हरजीत सिह, अमनपाल सिह,गुरमन सिह, जसप्रीत सिह, हरविन्दर सिह,सविन्दर सिह, रमनजीत सिह, प्रभजोत सिह,  हरजोत सिह, जसनीत सिह, परमजीत सिह, गुरविन्दर चडडा, सुमित हृदयेश,योगेश शर्मा,हेेमन्त बगडवाल, हरीश चन्द्र पाण्डे के अलावा सिख समाज के लोग मौजूद थे।  

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *