रेरा एक्ट की जानकारी देने के लिए हुआ कार्यशाला का आयोजन

रूद्रपुर (खबर संसार)| यूएस स्प्रिंग कार्निवाल में आज एपीजे अब्दुल कलाम सभागार मे उत्तराखण्ड भू-सम्पदा नियामक प्राधिकरण के अन्तर्गत राज्य रेरा एक्ट की जानकारी देने हेतु कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर अध्यक्ष रेरा विष्णु कुमार ने कहा जिला विकास प्राधिकरण एवं रेरा का मुख्य उद्देश्य निष्पक्षता व पारदर्शिता के साथ कार्य करते हुए नागरिको को सस्ते व किफायती दरो पर आसानी से आवास उपलब्ध कराना तथा शहरो का सुनियोजित एवं चहुमुंखी विकास करना है।

उन्होने कहा रेरा व प्राधिकरण के नियमो व एक्ट की जानकारी बिल्डरो, एजेंटो व आम नागरिको को देने हेतु इस तरह की कार्यशालाएं आयोजित की जा रही है। उन्होने कहा रेरा के अन्तर्गत बिल्डर व एजेंटो को रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है। उन्होने कहा जिन बिल्डर व एजेंटो का रजिस्ट्रेशन होगा बैंक भी उन्ही व्यक्तियो को ऋण स्वीकृत करेगा। उन्होने कहा यह एक्ट बिल्डर व एजंेट व ग्राहको के लिए उपयोगी है।

प्राविधान के अनुसार कार्य करे

उन्होने कहा एक्ट मे जो प्राविधान किया गया है, सभी उसी के अनुसार कार्य करे। उन्होने कहा मानचित्र के आधार पर भवन की जो लागत आती है, एग्रीमेंट के समय ग्राहक से 10 प्रतिशत से अधिक की धनराशि न ली जाए। उन्होने कहा ग्राहक को भवन देने के बाद 05 साल तक रख-रखाव सम्बन्धित बिल्डर का होगा। 

 मण्डलायुक्त राजीव रौतेला ने कहा आज की अर्थव्यवस्था को देखते हुए यह एक्ट एक मजबूत एक्ट है। उन्होने कहा प्रदेश मे यह एक्ट 2018 से लागू किया गया है। उन्होने बिल्डरो से कहा एक्ट के सभी नियमो को ध्यान मे रखते हुए वह पारदर्शिता से कार्य करे। उन्होने कहा लोगो को जागरूकता के लिए इस तरह की कार्यशालएं समय-समय पर आयोजित की जाए। उन्होेने कहा हर जनपद मे रेरा की 01-01 यूनिट स्थापित होनी चाहिए ताकि बिल्डरो के कार्य आसानी से जनपद स्तर पर हो सके। 

जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल ने कहा बिल्डरो को जो भी परेशानियां आ रही है सभी के सुझाव लेकर निस्तारण हेतु शासन स्तर को पे्रषित किया जायेगा। इस अवसर पर एसएसपी बलिंदरजीत सिंह, सचिव जिला विकास प्राधिकरण जयभारत सिंह, रेरा के सदस्य मनोज कुमार, उपाध्यक्ष डीके तिवारी, प्राधिकरण के बीएस नेगी, अपर जिलाधिकारी जगदीश चन्द्र काण्डपाल सहित अनेक बिल्डर व एजेंट उपस्थित थे।

ताजा खबरें पढ़ने लिए क्लिक करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *