एस्पिरेशनल जिलो मे किये जा रहे कार्यो की मण्डलायुक्त ने की समीक्षा

रूद्रपुर, खबर संसार। जनपद उधमसिंह नगर का भारत के 115 एस्पिरेशनल जिलों में चयन किया गया है। प्रदेश में जनपद उधमसिंह नगर व हरिद्वार भी इन जनपदों में शामिल है। एस्पिरेशनल जिलो मे किये जा रहे कार्यो की समीक्षा मण्डलायुक्त राजीव रौतेला द्वारा आज कलेक्ट्रेट सभागार में की व अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

उन्होने कहा यह भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है इसका संचालन नीति आयोग द्वारा किया जा रहा है। उन्होने कहा भारत सरकार द्वारा शिक्षा, स्वास्थ, पेयजल, विद्युतीकरण, कृृषि, स्किल डवलपमैंट आदि में सुधार लाने हेतु जो पैरामीटर तय किये गये है, उन्ही के अनुसार कार्य करते हुए इन कार्यो मे प्रगति लाये। उन्होने कहा इसके अन्तर्गत किये जा रहे कार्यो की लगातार समीक्षा की जायेगी ताकि इसके अन्तर्गत किये जा रहे कार्यो की गति बढाई जा सकें।

उन्होने अधिकारियो को निर्देश देते हुये कहा वे अपने विभागीय लक्ष्य अपने स्तर से तय करते हुये उसमे अमल करें। उन्होने कहा इसके लिये अधिकारियों द्वारा जो भी आकडे लिये जा रहे है वह सही होने चाहिए। उन्होने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा ऐसी कार्य योजना तैयार करें जिससे जनपद में गर्भवती महिलाओं की संख्या व प्रसव कहा करा रही है इसका पता चल सके। उन्होने कहा एक अभियान चलाकर सभी गर्भवती महिलाओं का रजिस्टेªशन कर उन्हे जिले की वेवसाईड बनाकर उसमे जोडा जाय।

उन्होने कहा स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीकाकरण कार्यक्रम की समय-समय पर समीक्षा की जाय ताकि सभी गर्भवती महिलाओं व बच्चों का टीकाकरण समय से किया जा सके। उन्होने कहा टीकाकरण से होने वाले फायदो के बारे में लोगों को जागरूक किया जाय। उन्होने कहा सभी डिप्टी सीएमओ अपने-अपने क्षेत्रों का व्हाट््सप गु्रप तैयार करें उसमे प्रसव व टीकाकरण की पूरी जानकारी डालें। उन्होने कहा आंगनबाडी कार्यकत्री,आशा व एएनएम का आपसी समन्वय होना चाहिये ताकि ग्रामीण स्तर पर ग्रामीणों को स्वास्थ्य सुविधा,गर्भवती महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण,पोषण आहार वितरण आदि के साथ-साथ टीकाकरण के कार्य समय पर सम्पादित किये जा सकें।

उन्होने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा वे अपने क्षेत्रों मे समय-समय पर चिकित्सालयों,विद्यालयों व आंगनबाडी केन्द्रो का निरीक्षण करें। उन्होने कहा उप जिलाधिकारियों द्वारा माह में जो कार्य किये जाने है उसकी रिपोर्ट बनाकर जिलाधिकारी को प्रस्तुत करें। शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुये मण्डलायुक्त ने कहा विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता बनाये रखने के लिये प्रार्थना सभा में सामान्य ज्ञान की जानकारी के साथ उनसे संकल्प भी पढवाय ताकि उनकी हिचक दूर हो सकें।

जिलाधिकारी डा0 नीरज खैरवाल  ने बताया एस्पिरेशनल (आकांक्षात्मक) जनपद के अन्तर्गत किये जाने वाले कार्याे की कार्य योेजना बनाई गई है, उसी कार्य योजना के अनुसार कार्य किये जा रहे है। उन्होने कहा सभी उप जिलाधिकारियों द्वारा समय-समय पर विद्यालय,आंगनबाडी केन्द्रों व चिकित्सालयों का निरीक्षण किया जाता है। उन्होने कहा आज जो निर्देश दिये गये है अधिकारियों के माध्यम से उन्हे सतप्रतिशत अमल कराया जायेगा।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित, अपर जिलाधिकारी उत्तम सिंह चैहान,जगदीश चन्द्र काण्डपाल, संयुक्त मजिस्टेªट हिमांशु खुराना, उप जिलाधिकारी मुक्ता मिश्र,मनीष बिष्ट,निर्मला बिष्ट,विवेक प्रकाश,सुन्दर सिंह, एपी बाजपेयी,एसएलओ नरेश चन्द्र दुर्गापाल,मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 शैलजा भट्ट, अपर निदेशक शिक्षा मुकुल सती,संयुक्त निदेशक कृृषि पीके सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी डा0 अभय सक्सेना, अधि0 अभि0 जल संस्थान पीएन चैधरी सहित अनेक मण्डीय अधिकारी भी उपस्थित थें।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *