शहर को साफ रखने को जनप्रतिनिधियो व़ संस्थाओ का भी सहयोग ले

हल्द्वानी, खबर संसार। पर्यावरण संरक्षण परिषद के उपाध्यक्ष प्रकाश हर्बोला ने सर्किट हाउस काठगोदाम में समस्त नगर निकायों, परिवहन, चिकित्सा, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, उद्योग विभाग की स्वच्छ भारत मिशन के तहत समीक्षा बैठक ली।

उन्होने सम्बन्धित अधिकारियो से जनपद में अब तक स्वच्छ भारत मिशन, प्रदूषण, कूडा निस्तारण, प्रधानमंत्री आवास योजना, दीनदयाल अन्त्योदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन एवं राजीव आवास योजनाओ की प्रगति की जानकारी ली।

श्री हरर्बोला ने कहा कि सभी नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायत अपने-अपने क्षेत्रो में सॉलिट वेस्ट मैनेजमैन्ट के तहत कूडा निस्तारण करे। उन्होने कहा कि 600 परिवारो के लिये सॉलिट वेस्ट मैनेजमैन्ट के तहत डोर-टू-डोर कूडा एकत्रित करने के लिये एक वाहन निर्धारित किया गया है। उन्होने कहा कि शहर को साफ व सुथरा रखने के लिये सम्बन्धित क्षेत्र के जनप्रतिनिधियो तथा समाज सेवी संस्थाओ का भी सहयोग ले।

उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा पूरे भारत वर्ष को 11 सितम्बर से 02 अक्टूबर तक स्वच्छता के संकल्प को पूर्ण करने के लिये हम सभी को स्वच्छता के क्षेत्र में एक मिशन के तहत जुडना होगा तभी स्वच्छता मिशन को पूर्ण किया जा सकता है। उन्होने कहा कि कूडा निस्तारण के लिये सम्बन्धित एनजीओ से भी सम्पर्क करें। उन्होने कहा कि कूडा दिन प्रतिदिन बढता ही जा रहा है जो कि आने वाले समय में एक विकराल रूप ले सकता है। जिसे हमे मिलकर रोकना होगा।

श्री हरर्बोला ने चिकित्सा महकमे के अधिकारियो को निर्देश देते हुये कहा चिकित्सा अपशिष्ट के उत्पादन संग्रहरण, प्राप्ति, भण्डारण, परिवहन, उपचार निपटाने के किसी अन्य प्रकार से सम्बन्धित रिकार्ड रखने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि रिकार्ड को किसी भी समय विहित प्राधिकारी और पर्यावरण, वन और जलवायु परिर्वतन मंत्रालय के निरीक्षण और सत्यापन के अधीन होती है।

अपशिष्ट को 48 घंटे से अधिक चिकित्सालय परिसर में संचित करना निषेध

उन्होने कहा कि किसी भी अपशिष्ट को 48 घंटे से अधिक चिकित्सालय परिसर में संचित करना निषेध है। उन्होने चिकित्सालय परिसर में कूडा निस्तारण की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होने सम्बन्धित निकायो के अधिशासी अधिकारियो को प्रधानमंत्री आवास योजना एवं राजीव आवास योजना के अन्तर्गत लक्ष्य के सापेक्ष कम प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुये शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिये।

उन्होने कहा कि पत्र लाभार्थियो के आवेदनो का सम्बन्धित अधिकारी परीक्षण के उपरान्त उनका निस्तारण शीघ्र करें। उन्होने कहा कि कम प्रगति वाले निकाय अपने लक्ष्य को बढाये व आगामी बैठक में प्रस्तुत करे। उन्होने कहा कि सम्बन्धित मदो में जो धनराशि आवंटित की गयी है उनका समय से सम्बन्धित योजनाओ पर खर्च करे व जो शेष धनराशि बच जाती है उसे शीघ्र शासन को वापस करे।

श्री हरर्बोला  ने सम्बन्धित अधिकारियो को मानको के अनुरूप योजनाओ का संचालन करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि जिन योजनाओ में लक्ष्य के सापेक्ष कम प्रगति पायी गयी है वे अपने कार्य क्षमता को बढाते हुये शीघ्र लक्ष्य को पूरा कराना सुनिश्चित करे। उन्होने कहा कि लक्ष्य से कम प्रगति वाले अधिकारियो पर आवश्यक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।

बैठक में नगर आयुक्त सीएस मर्तोलिया, सिटी मजिस्टेट प्रत्यूष सिह, आरटीओ राजीव मेहरा, उपनिदेशक शहरी विकास नीरज जोशी, सहायक निदेशक शहरी विकास राजीव पाण्डे, अधिशासी अधिकारी राजू नबियाल, प्रतिभा कोहली, मनोज दास, विजय बिष्ट, अशोक वर्मा,सहायक अभियन्ता जल निगम पल्लवी चौधरी, उप नगर आयुक्त बृजेन्द्र सिह चौहान, नगर स्वास्थ अधिकारी डा0 मनोज काण्डपाल के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *