तूफान के बाद से देश के कई इलाकों में बिजली आपूर्ति और इंटरनेट ठप

नई दिल्ली (खबर संसार)। शनिवार को चक्रवात ‘फोनी के बांग्लादेश में दस्तक देने के बाद कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई और 63 अन्य घायल हो गए। मीडिया में आई खबरों में यह दावा किया गया है। उल्लेखनीय है कि 2008 में बंगाल की खाड़ी से होकर 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाओं के साथ म्यामां में तबाही मचाने वाले चक्रवाती तूफान नरगिस के बाद से ‘फोनी सबसे जोरदार तूफान है।

हालांकि, बांग्लादेश आपदा प्रबंध मंत्रालय ने तीन तटीय जिलों से मिली शुरूआती खबरों के आधार पर चार मौतों की अधिकारिक रूप से पुष्टि की है। इनमें से दो मौतें बरगुना में तथा एक – एक मौत भोला और नोआखली में हुई है। आपदा प्रबंध राज्य मंत्री एनामुर रहमान ने यहां संवाददाताओं से कहा कि सभी प्रभावित जिलों से विस्तृत सूचना मिलनी बाकी है।
ढाका ट्रिब्यून के मुताबिक आठ जिलों से 14 मौतों की खबर मिली है। इस चक्रवाती तूफान ने शनिवार सुबह बांग्लादेश में दस्तक दी। तूफान में कई पेड़ उखड़ गए और 500 से अधिक मकानों को नुकसान पहुंचा।
बांग्लादेश के अधिकारियों ने कहा है कि 16 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है क्योंकि देश के तटवर्ती इलाकों में तटबंधों के टूटने के चलते करीब 36 गांवों में पानी भर गया है।डेली स्टार की खबर के मुताबिक बांग्लादेश के कई हिस्सों में आसमान में बादल छाये हुए हैं।

ताजा खबरें पढ़ने लिए क्लिक करें

ताजा खबरों के लिए चैनल को सब्सक्राइब करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *