International

गुफा से मिला 6000 साल पुराना Kankaal

तेलअवीव, खबर संसार। मौत की गुफा से 6000 साल पुराना बच्‍ची का कंकाल (Kankaal) मिला है। यह मौत की गुफा इजरायल के जुदेआन रेगिस्‍तान में मृत सागर से सटकर है।

वर्ष 1960 के दशक में करीब 40 नरकंकाल (Kankaal) मिलने के बाद इस गुफा का नाम ‘मौत की गुफा’ रख दिया गया था। शोधकर्ताओं को बच्‍ची का यह कंकाल गुफा के सूखे वातावरण में प्राकृतिक रूप से ममी में बदला हुआ मिला है।

इस कंकाल तक रस्‍सी के सहारे चढ़कर ही पहुंचा जा सकता है। बच्‍ची के कंकाल (Kankaal) के सीटी स्‍कैन से पता चला है कि यह 6 से 12 साल के बीच का है। माना जा रहा है कि यह एक लड़की थी।

उसके चमड़े और बाल 6000 साल बीत जाने के बाद भी आंशिक रूप से अभी भी बचे हुए हैं। इजरायली इतिहासकार रोनित लूपू ने कहा कि यह स्‍वाभाविक है कि जिसने भी उस बच्‍ची को दफनाया, उसे कपड़े से लपेट दिया था।

दुनिया की सबसे पुरानी टोकरी भी मिली

लूपू ने कहा कि यह कुछ उसी तरह से होता है जैसे पैरंट्स अपने बच्‍चे को कंबल में लपेटते हैं। बच्‍ची के हाथ में भी कुछ कपड़े बंधे हुए थे। यह कंकाल (Kankaal) मृत सागर में स्थित सूची पत्र के पास मिले हैं। यह सूची पत्र हिब्रू भाषा में लिखे सबसे प्राचीन अक्षर हैं।

हाल ही में यहां से 2000 साल पुराने सूची पत्र मिले थे। एनबीसी न्‍यूज के मुताबिक हिब्रू में लिखे इस सूची पत्र को रोम के खिलाफ यहूदियों के विद्रोह के दौरान छिपा दिए गए थे।

इसे भी पढ़े- सिडकुल में काम करने वाले Boy-girl ने कीटनाशक पिया लड़के की हालत गंभीर

इसी इलाके से दुनिया की सबसे पुरानी टोकरी भी मिली थी जो करीब 10 हजार साल पुरानी है। इसके अलावा यहां से तीर की नोक और सिक्‍के मिले थे जो माना जाता है कि बार कोचबा क्रांति के समय के थे।
यहां पर लूट की खबरें आने के बाद वर्ष 2017 में इजरायली अधिकारियों ने इस इलाके में खुदाई शुरू की थी। अब 6000 साल पुराना ममी बन चुका कंकाल मिलने से पुरातत्‍वविद अचरज में हैं।

Related posts

Leave a Comment