National

AIIMS डायरेक्टर ने लगावाया कोरोना टीका, लोगों की दूर होगी आशंका

नई दिल्ली, खबर संसार। दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और एम्स (AIIMS) के निदेशक रणदीप गुलेरिया की मौजूदगी में एम्स में कोरोना वायरस का वैक्सीनेशन शुरू हुआ।

इन दोनों की मौजूदगी में एम्स (AIIMS) में एक सफाई कर्मचारी को कोरोना वायरस का पहला टीका लगाया गया। वैक्सीन को लेकर लोगों की आशंकाओं को दूर करने के लिए एम्स डायरेक्ट डॉ. रणदीप गुलेरिया ने खुद भी कोरोना वैक्सीन लगवाई।

एम्स(AIIMS)  डायरेक्टर ने कहा कि मैं सभी को आश्‍वस्‍त करना चाहूंगा कि वैक्‍सीन सुरक्षित है। यह कारगर है। हमें बहुत बड़ी संख्‍या में लोगों को वैक्‍सीन लगानी है इसलिए हम शुरू में बहुत चुनिंदा नहीं हो सकते।

इसे भी पढ़े- Indonesia में भूकंप से तबाही, 15 की मौत, 600 लोग घायल

हमें अपने शोधकर्ताओं, वैज्ञानिकों और नियामक संस्‍थाओं पर भरोसा करना होगा। इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि मुझे आज बहुत खुशी है, वैक्सीन COVID19 के खिलाफ जंग में संजीवनी का काम करेगी।

भारत ने पहले पोलियो और चेचक के खिलाफ जंग जीती है और अब भारत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कोविड-19 के खिलाफ जंग जीतने के निर्णायक दौर में पहुंच चुका है।

दिल्ली कैंसर इंस्टीट्यूट में डॉक्टर को लगी पहली वैक्सीन

दिल्ली स्टेट कैंसर इंस्टिट्यूट में डॉ. प्रज्ञा शुक्ला को कोरोना की पहली वैक्सीन लगाई गई। वैक्सीन लगवाने के बाद डॉ. प्रज्ञा शुक्ला ने कहा कि मैं बिल्कुल नॉर्मल हूं, जैसे अंदर गई थी वैसे ही हूं। मुझे किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं है। उन्होंने कहा कि नोडल अधिकारी होने के नाते मैंने पहले टीका लगवाने का फैसला किया। इससे अन्य हेल्थवर्कर्स का भी हौसला बढ़ा।

एम्स में हर्षवर्धन की मौजूदगी में लगा टीका

दिल्ली एम्स (AIIMS) में मनीष कुमार नाम के एक सफाई कर्मचारी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी गई। इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी मौजूद रहे। सबने इस ऐतिहासिक मौके पर ताली बजाकर स्वागत किया।

मध्यप्रदेशः सीएम शिवराज पहुंचे हमीदिया अस्पताल

दूसरे राज्यों की तरह मध्य प्रदेश में भी कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत हो गई। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान भोपाल के हमीदिया अस्पताल में वैक्सिनेशन कार्यक्रम में शामिल हुये। पहला टीका लगने के मौके पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी और वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा भी मौजूद थे।

Related posts

Leave a Comment