International

ice cream में निकला कोरोना का वायरस, 1000 से अधिक लोग क्‍वारंटीन

सभी उत्पादों को सील कर हो रही जांंच

एंटी-एपिडेमिक अधिकारी कंपनी के उत्पादों को सील करने की कार्रवाई सुनिश्चित कर रहे हैं।  एक वायरोलॉजिस्ट ने बताया कि आइसक्रीम (ice cream) का पॉजिटिव टेस्ट इंसान के संपर्क के कारण और एकबारगी हो सकता है।  डॉक्टर स्टीफेन ग्रिफिन ने स्काई न्यूज को बताया कि पैनिक होने की कोई आशंका नहीं है।

इसे भी पढ़े- जनप्रतिनिधियों ने गांव-गांव जाकर सुनीं problems

चीन की सरकारी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक, प्रारंभिक जांच में पता चला है कि कंपनी ने विदेश से मंगाए गए कच्चे माल का इस्तेमाल करके आइसक्रीम का उत्पादन किया है। मिल्क पाउडर न्यूजीलैंड और वे पाउडर यूक्रेन से आयात किया गया था। रिपोर्ट में कहा गया कि कंपनी के 1,600 से ज्यादा कर्मचारियों को क्ववारंटीन किया गया।

पिछले साल, चीन में फ्रोजन फूड के पैकेज में जीवित कोरोनावायरस पाया गया था। डिब्बाबंद उत्पादों और कंटेनर के अंदर की दीवार में वायरस पाए जाने के बाद जुलाई में चीन ने फ्रोजन झींगे के आयात पर रोक लगा दी थी।

Related posts

Leave a Comment