Sport

टीम इंडिया के टेस्ट सीरीज जीतने पर Cricket Australia ने की तारीफ

नई दिल्ली, खबर संसार। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (Cricket Australia) ने बुधवार को मेजबान टीम पर टेस्ट सीरीज में ऐतिहासिक जीत के दौरान दिखाए गए साहस, दृढ़ता और कौशल के लिए भारतीय टीम की तारीफ की।

और इस मुकाबले का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का आभार व्यक्त करते हुए एक लेटर लिखा। अजिंक्य रहाणे की अगुवाई वाली अपेक्षाकृत कमजोर टीम ने तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद गाबा में ऑस्ट्रेलिया की मजबूत टीम को तीन विकेट से हराकर चार मैचों की सीरीज 2-1 से जीती और बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी अपने पास बरकरार रखी।

इसे भी पढ़े- IDFC फर्स्ट बैंक 9 फीसदी ब्याज पर देगा क्रेडिट कार्ड

सीए ने बीसीसीआई का आभार व्यक्त करते हुए लेटर में लिखा कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में सभी की तरफ से हम बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी बरकरार रखने के लिए इस सीरीज में दिखाए गए साहस, दृढ़ता और कौशल के लिए भारतीय टीम को बधाई देते हैं। इस सीरीज की आने वाली पीढ़ियों में भी चर्चा होती रहेगी।

यह लेटर सीए (Cricket Australia) के अंतरिम सीईओ निक हॉकले और अध्यक्ष अर्ल इडिंग्स ने भारतीय क्रिकेट के मित्रो के संबोधन के साथ शुरू किया है, जिसमें सौरव गांगुली की अगुवाई वाले बोर्ड का कोविड-19 महामारी के बावजूद सफलतापूर्वक दौरा करने के लिए आभार व्यक्त किया गया है।

हार के लिए पूरी टीम को लताड़ा

लेटर में (Cricket Australia) कहा गया है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट अपनी दोस्ती, विश्वास और प्रतिबद्धता के लिए हमेशा बीसीसीआई का आभारी रहेगा, जिसने एक सीरीज के आयोजन में मदद करके दुनिया के लाखों लोगों को मुश्किल समय में खुशी मनाने का मौका दिया। सीए ने लिखा है कि वैश्विक महामारी के दौरान इंटरनेशनल दौरे से जुड़ी कई चुनौतियां हैं और हम भारतीय खिलाड़ियों, कोचों और सहयोगी स्टाफ का आभार व्यक्त करते हैं।

दोनों टीमों ने सिडनी टेस्ट में मोहम्मद सिराज और जसप्रीत बुमराह पर नस्ली टिप्पणियों के बावजूद अपना ध्यान क्रिकेट पर बनाए रखा। ऑस्ट्रेलियाई बोर्ड ने कहा कि सार्वजनिक स्वास्थ्य और साजो सामान से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद बीसीसीआई ने इंटरनेशनल खेल के सबसे बड़े दूत की अपनी ख्याति के अनुरूप सहयोग की भावना बनाए रखी। हम इसे संभव बनाने के लिए बीसीसीआई में अपने मित्रों के बलिदान को कभी नहीं भूलेंगे।

Related posts

Leave a Comment