Sunday, February 25, 2024
spot_img
spot_img
HomeUttar Pradeshप्रतियोगी परीक्षा को नकलविहीन तथा पारदर्शिता से सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें

प्रतियोगी परीक्षा को नकलविहीन तथा पारदर्शिता से सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें

रूद्रपुर, खबर संसार। उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा 31 दिसम्बर को आयोजित होने वाली स्नातक स्तरीय पदों की लिखित प्रतियोगी परीक्षा को नकलविहीन तथा पारदर्शिता से सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें। यह निर्देश अपर जिलाधिकारी जय भारत सिंह ने परीक्षा के सफल संचालन हेतु सेक्टर मजिस्ट्रेटों तथा प्रधानाचार्याे एवं पर्यवेक्षकों की डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम सभागार में बैठक लेते हुए दिये।

अपर जिलाधिकारी ने बताया कि पूर्वाह्न 11 बजे से अपराह्न 01 बजे तक आयोजित होने वाली परीक्षा हेतु रूद्रपुर बनाए गए कुल 10 परीक्षा केन्द्र हेतु 4200 अभ्यर्थी पंजीकृत है। उन्होंने बताया कि परीक्षा को सफलतापूर्वक सम्पन्न कराने हेतु रूद्रपुर में 04 सैक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किये गये हैं व 04 सैक्टर मजिस्ट्रेट आरक्षित किये गये हैं।

भर्ती परीक्षा को नकलविहीन, पूरी पारदर्शिता तथा निष्पक्षता से सम्पन्न कराया जाये

उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि भर्ती परीक्षा को नकलविहीन, पूरी पारदर्शिता तथा निष्पक्षता से सम्पन्न कराया जाये। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि इस कार्य में छोटी से छोटी लापरवाही भी क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने कहा कि परीक्षा पारदर्शिता व निष्पक्षता से सम्पन्न होने पर योग्यतम व्यक्ति चयनित होंगे।

उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि परीक्षा को सफलतापूर्वक संपन्न करवाने के लिए ड्यूटी पर तैनात सैक्टर मजिस्ट्रेट, अधिकारी व कर्मचारी अपनी-अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर्तव्यनिष्ठा से करना सुनिश्चित करें। उन्होने स्पष्ठ निर्देश देते हुये कहा कि परीक्षा पारदर्शी तरीके से सफलतापूर्वक सम्पन्न हो, किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि परीक्षा दिवस पर परीक्षा केन्द्रों के आस-पास धारा-144 लागू रहेगी।

निर्धारित समय के अनुरूप ही अभ्यर्थियों का परीक्षा केंद्र में प्रवेश होना चाहिए

उन्होंने कहा कि परीक्षा की ड्यूटी बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य है, जिसका निर्वहन बड़ी जिम्मेदारी से करना है। उन्होंने कहा कि आयोग द्वारा निर्धारित समय के अनुरूप ही अभ्यर्थियों का परीक्षा केंद्र में प्रवेश होना चाहिए। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि परीक्षा केंद्र में पेपर आयोग के दिशा-निर्देशों का शतप्रतिशत अनुपालन करते हुए खोले जाएं। उन्होंने निर्देश दिये कि परीक्षा का आयोजन जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार ही करवाया जाए।

उन्होंने कहा कि परीक्षा केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ यह भी सुनिश्चित करें कि किसी भी कर्मचारी के पास मोबाइल न हो। परीक्षा केंद्रों के आसपास कोई फोटो स्टेट की दुकान खुली न रहें। इसके अलावा परीक्षा केंद्रों पर ड्îूटी देने वाले अधिकारी व कर्मचारी अपने साथ आईडी कार्ड जरूर लायें। उन्होंने कहा कि परीक्षा केंद्रों पर बिजली, पानी, शौचालय जैसी आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध हों।

इलेक्ट्रॉनिक, डिजिटल गैजेट परीक्षा केन्द्र पर लाने की अनुमति नहीं

उन्होंने कहा कि अभ्यर्थियों को मोबाइल फोन तथा ब्लूटूथ डिवाइस, घड़ी या किसी भी अन्य प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक, डिजिटल गैजेट परीक्षा केन्द्र पर लाने की अनुमति नहीं है। परीक्षा केन्द्र के बाहर इस सम्बन्ध में बड़े अक्षरों में नोटिस लगाकर यह स्पष्ट कर दिया जाये कि आयोग के निर्देशों का उल्लंघन करते हुए पाये जाने पर सम्बन्धित परीक्षार्थियों के विरुद्ध विधिक कार्यवाही अमल में लाई जायेेगी।

उन्होंने निर्देश दिये कि परीक्षा कार्य में संलग्न कर्मचारियों तथा अधिकारियों के अतिरिक्त किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति को परीक्षा केन्द्र परिसर में प्रवेश न करने दिया जाये। परीक्षा केन्द्रों पर सुरक्षा हेतु पर्याप्त पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। उन्होंने परीक्षा के सफल संचालन हेतु आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का शतप्रतिशत अनुपालन करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

बैठक में प्रभारी अधिकारी कलेक्टेªट डॉ0 अमृता शर्मा, उप जिलाधिकारी गौरव पाण्डेय, मुख्य कृषि अधिकारी एके वर्मा, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत तेज सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध आयोग के प्रतिनिधि रवि सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

इसे भी पढ़े-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रानीबाग स्थित एचएमटी फैक्ट्री का निरीक्षण किया

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें

RELATED ARTICLES

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.