Wednesday, February 21, 2024
spot_img
spot_img
HomeBusinessPaytm के स्‍टाक में आरबीआई के गर्वरन के बयान के बाद आई...

Paytm के स्‍टाक में आरबीआई के गर्वरन के बयान के बाद आई भारी ग‍िरावट

जी, हां आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास के बयान के बाद पेटीएम का स्‍टॉक औधे मुंह ग‍िर पड़ा Paytm के शेयर में 10 फीसदी की गिरावट के बाद लोअर सर्किट लग गया है। दिन में 528 रुपये के हाई से स्टॉक 15।40 फीसदी तक नीचे लुढ़क चुका है।

मॉनिटरी पॉलिसी के बाद हुए प्रेस कॉंफ्रेंस के दौरान आरबीआई गवर्नर से Paytm Pament Bank को लेकर सवाल पूछा गया था। सवाल के जवाब में आरबीआई ने कहा कि पेटीएम पेमेंट बैंक के खिलाफ ये सुपवाइजरी एक्शन है।

उन्होंने कहा कि आरबीआई हर रेग्यूलेटेड एनटिटी को अनुपालन पूरा करने के लिए पर्याप्त समय देती है। कई बार ज्यादा भी समय दिया जाता है। उन्होंने कहा कि हम जिम्मेदार रेग्यूलेटर हैं अगर नियमों का अनुपालन हो रहा होता तो भला हम ऐसी कार्रवाई क्यों करते?

रिकॉर्ड लो के करीब Paytm शेयर

Paytm आईपीओ नवंबर 2021 में आया था और शेयर 18 नवंबर 2021 को लिस्ट हुए थे। आईपीओ निवेशकों को शेयर 2150 रुपये के भाव पर जारी हुए थे। लेकिन लिस्टिंग के बाद से इस भाव तक यह शेयर कभी पहुंच ही नहीं पाया।

यानी कि आईपीओ निवेशक कभी मुनाफे में नहीं आए। पिछले दो दिनों से पेटीएम शेयर में लोअर सर्किट लग रहा है। अब यह रिकॉर्ड लो के काफी करीब है। इसके शेयर 23 नवंबर 2022 को NSE पर 438।35 रुपये के रिकॉर्ड निचले स्तर पर चले गए थे।

लिस्टिंग के दिन हुआ था नुकसान

Paytm का आईपीओ 1 नवंबर 2021 को आया था। कंपनी ने उस दौरान प्राइस बैंड 2080 रुपये से 2150 रुपये प्रति शेयर तय किया था। कंपनी की एनएसई में लिस्टिंग 9 फीसदी डिस्काउंट के साथ 1955 रुपये पर हुई थी।

लिस्टिंग के दिन ही कंपनी के शेयर 27 फीसदी गिरावट के साथ 1564 रुपये पर आ गए थे। इसके बाद से शेयरों में गिरावट ही देखी जा रही है। इस शेयर में निवेश करने वालों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

इसे भी पढ़े-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रानीबाग स्थित एचएमटी फैक्ट्री का निरीक्षण किया

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें

RELATED ARTICLES

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.