Thursday, April 18, 2024
HomeUttarakhandबल्यूटिया के सहयोग से दो और ने दी railway को चुनाैती

बल्यूटिया के सहयोग से दो और ने दी railway को चुनाैती

हल्द्वानी, खबर संसार। रेलवे (railway) विभाग की ओर से हल्द्वानी के वनभूलपुरा में रह रहे लोगों को 15 दिन के अंदर जगह खाली करने के नोटिस के ख़िलाफ़ आज दो और पीड़ित लोगों ने जिला अदालत में चुनौती दी।

चुनौती देने वाले मो० शरीफ़ व राशिद मिकरानी ने बताया की कांग्रेस प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया के सहयोग से उन्होंने जिला न्यायालय में याचिका अधिवक्ता संदीप तिवारी के माध्यम से दाखिल की जिसे स्वीकार करते हुए के जिला न्यायालय द्वारा रेलवे विभाग (railway) को नोटिस किया गया है।

अगली सुनवाई 25 को

दोनो ही याचिकाओं को मो० एहसान की याचिका के साथ जोड़ते हुए अगली तारीख़ 25 फ़रवरी लगी। मो० एहसान की याचिका में स्टे अगली तारीख़ 25 फ़रवरी तक बढ़ा दिया गया है।

ज्ञात रहे रेलवे विभाग (railway) ने वनभूलपुरा क्षेत्र के करीब 1500 लोगों को बेदखली के नोटिस दिए थे। रेलवे विभाग से नोटिस मिलने के बाद वनभूलपुरा क्षेत्र के लोगों में हड़कंप मचा हुआ है। जिसमें आगे बढ़कर दीपक बल्यूटिया ने उन्हें सहयोग किया ।

जिसके लिए दीपक़ बल्यूटिया का आभार जताते हुए कहा कि जिला अदालत का यह आदेश बाकी उन लोगों के लिए बेहद लाभप्रद साबित होगा जो पिछले 50-60 साल से वनभूलपुरा क्षेत्र में रह रहे हैं।

और वर्तमान में ऐसे लोगों को रेलवे विभाग की ओर से बेदखली के नोटिस मिले हुए हैं। इधर बल्यूटिया ने बताया कि वह बनभूलपुरा क्षेत्र, नई बस्ती, गफूर बस्ती तथा अन्य सटे हुए इलाके,के लोगों को बेदखली के नोटिस मिलने के बाद से ही उनकी मदद की पैरवी कर रहे थे। यहां जिन लोगों को रेलवे विभाग की ओर से बेदखली के नोटिस मिले हैं ।

इसे भी पढ़े- जो तृणमूल छोड़कर गए, चुनाव बाद उनकी दुकानें बंद हो जाएंगी: Mamta

नोटिस मिलने के बाद उन्होंने स्थानीय लोगों के दस्तावेज देखने विधि विशेषज्ञों से विधिक राय जुटाई। उन्होंने बताया कि रेलवे विभाग लंबे समय से हल्द्वानी के वनभूलपुरा क्षेत्र में अपनी जमीन होने का दावा कर रहा है।  लेकिन आज तक जमीन का ठीक से पैमाइश नहीं करा पाया।

जबकि यहां रह रहे लोगों के पास जमीन के पट्टे होने के साथ ही भवन निर्माण के नक्शे तथा बिजली-पानी के बिल मौजूद हैं। और कई सारे सरकारी संस्थान भी यहां हैं। दीपक बल्यूटिया ने कहा बिना सीमांकन व चिन्हीकरण किए बेदख़ली का नोटिस दिया जाना औचित्यपूर्ण नही है।

RELATED ARTICLES
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.