Corona National

UK में कोरोना के नए रूप से खलबली, केजरीवाल-गहलोत ने की फ्लाइट बैन करने की मांग

ब्रिटेन के कुछ हिस्सों में Corona virus का एक नया वेरिएंट  पाया गया है जो तेज़ी से फैल रहा है। देश के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैंकॉक ने कहा कि कम से कम 60 अलग-अलग स्थानीय प्रशासनों को इस नए प्रकार से कोविड संक्रमण(Corona virus) के मामले मिले हैं।

नई दिल्‍ली, खबर संसार। यूके (UK) में कोरोना वायरस का एक नया स्ट्रेन सामने आया है, जो पूर्व के वायरस के मुकाबले 70 प्रतिशत अधिक तेजी से फैलता है। दुनियाभर में इस खबर के बाद चिंता बढ़ गई है। 15 से ज्‍यादा देशों ने विमान सेवाओं में पाबंदियों का ऐलान किया है। भारत में अभी ऐसा कोई फैसला नहीं हुआ है।

केजरीवाल, गहलोत ने की फ्लाइट बैन की डिमांड

दिल्‍ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को एक ट्वीट में कहा, “यूके (UK) में कोरोना वायरस का नया म्‍यूटेशन मिला है जो कि सुपर स्‍प्रेडर है। मैं केंद्र सरकार से यूके से आने वाली सभी फ्लाइट्स तत्‍काल बैन करने की गुहार लगाता हूं।” राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने लिखा कि नए स्‍ट्रेन का मिलना बेहद चिंता की बात है।

इसे भी पढ़े- 14वें दिन भी नहीं बढ़े Oil के दाम, ऐसे जाने अपने शहर का रेट

उन्‍होंने यूके (UK) और यूरोपियन देशों की सभी फ्लाइट्स पर रोक लगाने की मांग करते हुए केंद्र सरकार से इसे लेकर योजना बनाने को कहा। गहलोत ने कहा, “जब कोरोना वायरस फैलना शुरू हुआ था, हम इंटरनैशनल फ्लाइट्स बैन करने में पीछे रह गए थे जिससे केसेज में खासा इजाफा हुआ।

केंद्र सरकार ने कहा, घबराएं नहीं

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन ने सोमवार दोपहर कहा कि केंद्र को पता है कि क्‍या करना है। उन्‍होंने कहा, “सरकार अलर्ट है। पिछले एक साल में आप सबने देखा ही है कि हमने लोगों की सुरक्षा के लिए सभी जरूरी कदम उठाए। हमें पता है कि क्‍या करने की जरूरत है। अगर आप मुझसे पूछें तो घबराने की कोई बात नहीं है।” स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए स्‍ट्रेन को लेकर सोमवार को अपने शीर्ष सलाहकारों की एक आपात बैठक बुलाई है।

संयुक्त निगरानी समूह की अध्यक्षता स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक करेंगे। इस आपातकालीन बैठक में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर), विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रतिनिधि और अन्य लोग हिस्सा लेंगे।
नए स्‍ट्रेन से ब्रिटेन में हड़कंप
कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड, बेल्जियम, ऑस्ट्रिया, आयरलैंड, चिली, बुल्गारिया और सऊदी अरब ब्रिटेन की यात्रा पर पाबंदी की घोषणा कर चुके हैं। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना वायरस के नए स्वरूप के तेजी से फैलने के बाद क्रिसमस से पहले दक्षिणी इंग्लैंड में बाजारों को बंद करने और लोगों के जमावड़े पर रोक लगाने की घोषणा की है। जॉनसन ने श्रेणी-4 के सख्त प्रतिबंधों को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है।

Related posts

Leave a Comment