National

kisaan aandolan: कई टोल प्लाजा पर किसानों का कब्जा

kisaan aandolan: कई टोल प्लाजा पर किसानों का कब्जा

नई दिल्‍ली, खबर संसार। नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान (kisaan) सरकार के साथ आर-पार की लड़ाई लड़ने का ऐलान कर चुके किसान पीछे हटने को तैयार नहीं हैं। इसके साथ ही पंजाब-हरियाणा समेत कई जगहों पर किसानों (kisaan) द्वारा टोल फ्री कराए जाने के बाद अलग-अलग राज्यों से किसानों के जत्थे दिल्ली की ओर कूच करने लगे हैं।

करनाल में किसानों (kisaan) ने शुक्रवार देर रात से ही बस्तारा टोल प्लाजा को बंद कर दिया है। वहीं, किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर दिल्ली-एनसीआर और उत्तर प्रदेश के सभी हाइवे और टोल प्लाजा पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

kisaan ने ऐलान किया था कि पूरे देश में रोज प्रदर्शन होगा

किसानों (kisaan) ने ऐलान किया था कि पूरे देश में रोज प्रदर्शन होगा। पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्थान और मध्य प्रदेश में 14 तारीख को धरने दिए जाएंगे, जो धरने में शामिल नहीं होगा वो दिल्ली को कूच करेगा। 12 तारीख को जयपुर-दिल्ली हाईवे रोका जाएगा और 12 तारीख को एक दिन के लिए पूरे देश के टोल प्लाजा फ्री कर दिए जाएंगे।

जेवर : पुलिस ने किसानों जेवर टोल प्लाजा पर नहीं आने दिया। किसान (kisaan) नीचे सर्विस लेन से ही पुलिस के सामने अपनी मांगें रखकर वापस चले गए हैं।

उत्तर प्रदेश : शाहजहांपुर जिले की पुवायां तहसील क्षेत्र में बंडा रोड पर सबली कटेली टाेल प्लाजा पर शनिवार को भारतीय किसान यूनियन (bhaarateey kisaan yooniyan) के अलग-अलग संगठनों ने एकजुट होकर कब्जा कर लिया। कब्जे के बाद किसानों ने हर आने-जाने वाले वाहन के लिए टोल फ्री कर दिया।

गुरुग्राम : पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार हिसार के खांडा खेड़ी गांव से पांच किसानों का जत्था गुरुग्राम के खेड़की दौला टोल प्लाजा पर पहुंच गया हैl पुलिस ने किसानों को आगे बढ़ने से रोक दिया है। जत्थे में शामिल किसानों (kisaan) ने बताया कि उन्हें गुरुग्राम के किसानों ने टोल पर आकर समर्थन देने का आश्वासन दिया था। हालांकि, इन पांच किसानों के अलावा खेड़की दौला टोल प्लाजा अभी और किसान नहीं पहुंचे हैं। पुलिस ने पांचों किसानों को हिरासत में ले लिया है।

इसे भी पढ़े: UP में Fog का कहर तो उत्तराखंड में बर्फबारी की संभावना

सपा नेता नरेश उत्तम अग्रवाल ने कहा कि रोज प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री और बीजेपी के नेता किसानों की आय दोगुनी करने की बातें करते हैं, लेकिन मोदी जी ने किसानों की दुर्दशा कर दी है। किसान (kisaan) अपने द्वारा पैदा की गई फसल का सही दाम नहीं पा सकता तो फिर ये किस तरह का लोकतंत्र है।

दिल्ली : भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत से आज जब यह पूछा गया कि क्या ‘राष्ट्र-विरोधी तत्व’ आंदोलन में शामिल हो गए हैं? तो उन्होंने कहा कि अगर किसी प्रतिबंधित संगठन के लोग हमारे बीच घूम रहे हैं, तो उन्हें सलाखों के पीछे डाल दें। पुलिस और खुफिया एजेंसियों को उन्हें पकड़ना चाहिए। हमें ऐसा कोई व्यक्ति यहां नहीं मिला, अगर हम ऐसा कोई मिला तो हम उन्हें वापस भेज देंगे।

हरियाणा : कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के मद्देनजर किसानों के टोल को बंद करने के ऐलान के बाद आज अंबाला में शंभू टोल प्लाजा को टोल फ्री कर दिया गया है। टोल प्लाजा प्रभारी रवि तिवारी ने बताया कि कल रात 12 बजे से यह टोल फ्री हो गया है। कुछ किसान आए थे और यह उनके आंदोलन के लिए किया गया है। हमें अभी तक कोई आदेश नहीं मिला है कि यह कब तक जारी रहेगा, लेकिन किसान कह रहे हैं कि यह आज रात 12 बजे तक मुफ्त रहेगा।

अमरोहा : किसानों का हाईवे पर धरना और जोया टोल फ्री करने के ऐलान के मद्देजनर यूपी पुलिस ने भाकियू नेताओं को घरों में ही रोक दिया है। भाकियू (भानू) गट के उपाध्यक्ष चौधरी दिवाकर सिंह के आवास पर सुबह से ही पुलिस तैनात है।

ताजा खबरों के क्लिक करें

Related posts

Leave a Comment