National

Assam में पीएम ने लोगों को 1.60 लाख लोगों को जमीन का पट्टा दिया

शिवसागर, खबर संसार। असम (Assam) के शिवसागर जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक लाख 60 हजार लोगों को जमीन के पट्टों का आवंटन किया। उन्होंने कहा कि राज्य के मूल निवासियों को पट्टा देने का लक्ष्य है।

पीएम मोदी ने कहा, ‘आपका प्यार मुझे बार-बार असम की धरती पर खींच लाता है। असम के मूल निवासियों से जुड़ी खुशियों में शामिल होने आया हूं। असम की आत्मीयता मेरा सौभाग्य है। पहले की सरकारों को कोई चिंता नहीं थी। असम सरकार ने लोगों की चिंता दूर की।’

6 लाख परिवारों के पास नहीं थे जमीन को कागज

पीएम ने कहा, ‘असम (Assam) में जब हमारी सरकार बनी तो उस समय भी यहां करीब-करीब 6 लाख मूल निवासी परिवार, जिनके पास जमीन के कानूनी कागज नहीं थे। लेकिन सर्वानंद सोनोवाल के नेतृत्व में यहां की सरकार ने आपकी इस चिंता को दूर करने के लिए गंभीरता के साथ काम किया। असम में जब हमारी सरकार बनी तो उस समय भी यहां करीब-करीब 6 लाख मूल निवासी परिवार जिनके पास जमीन के कानूनी कागज नहीं थे।’

पीएम मोदी ने कहा, ‘ऐतिहासिक बोडो समझौते से अब असम का एक बहुत बड़ा हिस्सा शांति और विकास के मार्ग पर लौट आया है। समझौते के बाद हाल में बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल के पहले चुनाव हुए, प्रतिनिधि चुने गए। अब बोडो टेरिटोरियल काउंसिल विकास और विश्वास के नए प्रतिमान स्थापित करेगी। असम में तेल और गैस से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर पर बीते वर्षों में 40 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश किया गया है। गुवाहटी-बरौनी गैस पाइप लाइन से नॉर्थ ईस्ट और पूर्वी भारत की गैस कनेक्टिविटी मजबूत होने वाली है।’

इसे भी पढ़े- Varun-Natasha की शादी हाई सिक्योरिटी के बीच होगी

उन्होंने कहा, ‘5 साल पहले तक असम के 50 प्रतिशत से भी कम घरों तक बिजली पहुंची थी, जो अब करीब 100 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। जल जीवन मिशन के तहत बीते 1.5 साल में असम में 2.5 लाख से ज्यादा घरों में पानी का कनेक्शन दिया गया है। आत्मविश्वास तभी बढ़ता है, जब घर-परिवार में भी सुविधाएं मिलती हैं और बाहर का इंफ्रास्ट्रक्चर भी सुधरता है। बीते सालों में इन दोनों मोर्चों पर असम (Assam) में अभूतपूर्व काम किया गया है।’

Related posts

Leave a Comment