Uttarakhand

नशे की रोकथाम के लिए Sanskar बहुत जरूरी- तीरथ

देहरादून खबर-संसार l राज्य में बढ़ती नशे की प्रवृत्ति की रोकथाम पर आज मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि नशे की रोकथाम घर से की जा सकती है बच्‍चों को अच्‍छे Sanskar देकर। क्योंकि जब तक मां-बाप सक्रिय नहीं होंगे तब तक कुछ नहीं हो सकता।

सरकार भी कुछ नहीं कर सकती खबर-संसार ने जब मुख्यमंत्री से कहा कि संस्कार (Sanskar) के बात तो ठीक है लेकिन सरकार क्या कर रही है इस पर वह मुस्कुरा दिया l उन्होंने कहा था कि आज कि मम्मी किटी पार्टी कल्चर मैं बिजी हो गई है जबकि बच्चे के विकास के लिए मां की परवरिश और उसका संस्कार बहुत जरूरी है।

पिता अपना दायित्‍व नहीं निभा रहे

उन्होंने कहा कि पिता भी अपनी दायित्व नहीं निभा रहे l मुख्यमंत्री ने कपड़ों पर भी कटाक्ष करते हुए कहा कि लोग फटी जींस पहने हैं यह भी फैशन हैl उन्होंने कहा कि अपने दोस्त का उदाहरण देते हुए कहा कि सफाई कर्मी का बेटा भी आई एस पी सी एस बन सकता है।

इसे भी पढ़े- Multipurpose विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर 21 को

इससे पूर्व मसूरी विधायक गणेश जोशी ने कहा कि पहले सारे ऐव करता था लेकिन इच्छाशक्ति मजबूत के कारण मैंने सब छोड़ दिया फौजी आदमी हूं झूठ नहीं बोलूंगा l(Sanskar) इससे पूर्व एक होटल में आयोजित कार्यक्रम में उत्तराखंड बाल अधिकार सरंक्षण आयोग द्वारा बच्चों में बढ़ती नशे की बढ़ती प्रबर्ती की रोकथाम तेरी कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसकी अध्यक्षता उषा नेगी ने की।

फेसबुक पेज से जुड़े-

Related posts

Leave a Comment