Uttarakhand

तेजतर्रार SO कलाम के रामनगर आने से होगा ये फर्क

Uttrakhand News, रामनगर, खबर संसार। तेजतर्रार एस ओ (SO) कलाम रामनगर के आने से होगा ये फर्क। जी हां अबुल कलाम की कार्यशैली से निश्चित रूप से रामनगर में क्राइम घटेंगा। ऐसा माना जा रहा है क्योंकि उनकी कार्यशैली कुछ अलग है। कल अपने बयान में भी उन्होंने महिलाओ को सुरक्षा को प्राथमिकता में रखा है।

देहरादून सहित कई थानो मे बतौर SO तैनात रहे चुके है

नव आगन्तुक कोतवाली प्रभारी अबुल कलाम का जन्म 10 दिसम्बर 1976 को  हरिद्वार में हुआ है।  हरिद्वार से एमए, बीएड की शिक्षा प्राप्त की है तथा वर्ष 2002 मे पुलिस महकमे मे बतौर उपनिरीक्षक भर्ती हुये। अपनी पोस्टिंग के दौरान वह देहरादून, उधमसिंह नगर, टिहरी जिले के कई थानो मे बतौर एसओ तैनात रहे हैै।

वर्ष 2016 मे श्री कलाम प्रौन्नत होकर इंस्पेक्टर बने तथा इस बीच जसपुर कोतवाल व उधम सिंह नगर तथा नैनीताल जिले मे एसओजी प्रभारी, छात्रवृति घोटाले के लिये गठित एसआईटी टीम मे प्रभारी के पद पर तैनात रहे है। विगत एक दिसम्बर 2020 को श्री कलाम ने रामनगर कोतवाली प्रभारी का प्रभार संभाला है। श्री कलाम को एक व्यवहार कुशल, टीम भावना से काम करने वाले व क्राईम की गहरी समझ रखने वाले अधिकारी के रूप मे पहचाना जाता है।

इसे भी पढ़े- Fashion की दुनिया में मास्क का जलवा

Related posts

1 comment

Leave a Comment