Uttarakhand

उत्तराखंड यूपी बॉर्डर पर सख़्ती से चल रहा चैकिंग अभियान

खबर संसार किच्छा दिलीप अरोरा। ज़ब उत्तराखंड मे लॉक डाउन हुआ है तभी से यहां का प्रशासन सख्त रूख अपनाये हुए है खासतौर से उत्तराखंड यूपी बॉर्डर पर। हलांकि प्रदेश के अंदर के हलात तो अब सुधरते भी नजर आ रहे है जिसके चलते अब बजार भी कुछ हद तक नियमानुसार खुलने भी लगे है लेकिन बॉर्डर पर हलात अभी पहले वाले ही है।
दो दिन पहले प्रशासन ने बजारों को खुलने मे कुछ ढील अवश्य दी थी लेकिन बाकि अन्य नियम पूर्व एसओपी के अनुसार ही लागू थे। जिसका जायजा लेने हम आज किच्छा के पुलभट्टा थाना के पास बने उत्तराखंड यूपी बॉर्डर पर पहुँचे।

यहां का हलात सुकून देने वाले दिखे यहां प्रशासन स्तर से जो इंतजाम प्रारम्भ मे किये गए थे वही अभी भी आज भी देखने को मिले। बॉडर पर पुलिस के जवान सहित पीएसी के जवान और पीआरडी के जवान अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद दिखे।
यहां के हलात के अनुसार उत्तराखंड से यूपी जाने वाले वहानो को जाने से नहीं रोका जा रहा था लेकिन जो भी वाहन यूपी से उत्तराखंड बॉर्डर मे प्रवेश के लिए आ रहे थे उनको यह जवान रोक कर अपनी रिपोर्ट चैक कराने को बोलते नजर आये। जिसके बाद ऐसे वाहनों मे सवार लोगो की रिपोर्ट वहा मौजूद महिला पुलिस सिपाही पिंकी नंदा जानकारी अनुसार इनको कोर्ट के माध्यम से भेज गया है वह उक्त लोगो की रिपोर्ट आरटी पीसीआर और स्मार्ट सिटी पोर्टल मे जो रजिस्ट्रेशन किया जाता है उसे चैक करती दिखी और जिनके पास यह दो चीज नहीं थी उनको भी वापिस जाने को बोलती दिखी साथ ही उत्तराखंड मे प्रवेश नहीं दिया जा रहा था।

इसके अलावा जिनके पास प्रवेश करने का पास मौजूद था लेकिन उनके पास उनकी कोरोना रिपोर्ट नहीं थी उनको वही मौजूद मेडिकल टीम के पास भेज कर टेस्ट के लिए भी बोला जा रहा था। जिसके बाद वहा मौजूद मेडिकल टीम जिसमे किरण पाण्डेय रूबी गंगवार और निशा शामिल थे वह जो व्यक्ति बिना रिपोर्ट के उत्तराखंड मे प्रवेश करना चाहते थे उनका एंटीजन और आरटी पीसीआर टेस्ट किया जा रहा था जिसके बाद उनकी निगेटिव रिपोर्ट के बाद ही उनको प्रवेश करने की अनुमति थी। ज़ब तक हम मौजूद रहे तब तक दोनों टेस्ट की संख्या 18 – 18 हो चुकी थी और कोई भी पॉजिटिव केस अभी तक नहीं आया था। मॉनिटरिंग के लिए भी प्रशासन की तरफ से होरिलाल और कमल सिंह की नियुक्ति की गयी थी। कुल मिलाकर प्रशासन की तरफ से बॉडर पर चैकिंग और नियमों का पालन ही सके इसके लिए सारे इंतजाम चाक चौबंध दिखे। और सभी विभाग और लोग अपनी ड्यूटी निभाते नजर आये। और ग्राउंड जीरो की रिपोर्ट मे सभी पास हुए।

यही नहीं उत्तराखंड परिवहन निगम की बसें भी इसी बॉर्डर तक यात्रियों को ला रही थी और उसके बाद यूपी जाने वाले यात्री कुछ मीटर तक पैदल चलकर वहा ख़डी यूपी की रोडवेज के जरिये अपने निर्धारित स्थानों के लिए रूख करते नजर आये और यही प्रक्रिया दूसरी और से भी नजर आयी।
फिलहाल बजार जरूर खुल गए है लेकिन अभी भी बॉर्डर के हलात सख्त बने हुए है बिना चैकिंग के अभी लोगो को उत्तराखंड मे प्रवेश नहीं दिया जा रहा है।
चैकिंग टीम मे पुलभट्टा पुलिस के लक्षनाथ गोस्वामी, उमा और पीआरडी के सगीर अहमद महेन्द्र लाल, सुनीता गंगवार, और पीएसी के अखीलेश जोशी शिवशंकर, मुकेश पाण्डेय आदि मौजूद थे।

Related posts

Leave a Comment