Thursday, April 18, 2024
HomeNationalकोर्ट का फैसलाा: फ‍िर से गिने जाएंगे चंडीगढ़ में वोट 'आप' का...

कोर्ट का फैसलाा: फ‍िर से गिने जाएंगे चंडीगढ़ में वोट ‘आप’ का मेयर बनना तय

जी, हां चंडीगढ़ मेयर के चुनाव पर सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने पिछले चुनावों के वोटों की दोबारा गिनती का आदेश दिया। मतदान के बाद आदेश दिया गया कि क्रॉस के निशान वाले वोटों को गिनती में शामिल किया जाये।

बताते चले की रिटर्निंग पुलिस अधिकारी अनिल मसीह ने सोमवार को अदालत में स्वीकार किया कि उन्होंने मतपत्रों को काट दिया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने मतपत्र पर इसलिए निशान लगाया क्योंकि एक नियमित मेयर पद के उम्मीदवार ने इसे फाड़ने की कोशिश की थी। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद, मेयर के लिए रास्ता साफ हो गया है। सुप्रीम कोर्ट ने अनिल मास द्वारा रद्द किए गए आठ वोटों को वैध मानने का फैसला किया है।

बीजेपी को मिली थी जीत

30 जनवरी को चंडीगढ़ नगर निगम के मेयर पद के लिए चुनाव में बीजेपी के मनोज सोनकर ने जीत हासिल की थी। मनोज सोनकर को बीजेपी के 14 पार्षद, सांसद किरण खेर और शिरोमणि अकाली दल के एक पार्षद का वोट मिला था। सदन में 13 सीटों वाली आम आदमी पार्टी दूसरे नंबर की पार्टी है। पार्टी के उम्मीदवार कुलदीप टीटा को कांग्रेस के 7 पार्षदों ने भी वोट दिया था।

मगर रिटर्निंग अफसर अनिल मसीह ने बैलेट पर क्रॉस मार्क लगे होने के कारण 8 वोटों को निरस्त कर दिया था। इस बीजेपी कैंडिडेट मनोज सोनकर ने चार वोटों से जीत हासिल कर ली थी। कुलदीप टोटा को 12 वैध मत मिले थे। अब सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद क्रॉस किए गए 8 बैलेट को भी काउंटिंग में शामिल किया गया है। इससे आप-कांग्रेस के संयुक्त उम्मीदवार कुलदीप टीटा को 20 वोट मिले हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में मामला पहुंचने के बाद मनोज सोनकर ने मेयर पद से इस्तीफा दे दिया था।

AAP-कांग्रेस के पास था बहुमत

इस बदले समीकरण का एक दूसरा पहलू भी है। दो दिन पहले तक चंडीगढ़ नगर निगम में बहुमत आम आदमी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन के पास था। चंडीगढ़ नगर निगम में बीजेपी के पास 14 पार्षद थे। आप के तीन पार्षद पूनम देवी, नेहा मुसावट, गुरचरण काला बीजेपी में शामिल होने के बाद बीजेपी के पास 17 पार्षद हैं।

उसे शिरोमणि अकाली दल के एक पार्षद का समर्थन भी हासिल है। इसके अलावा बीजेपी के पास सांसद किरण खेर का वोट भी है। इस तरह 35 सदस्यों वाले सदन में बीजेपी को 19 सदस्यों का वोट मिल सकता है। चंडीगढ़ नगर निगम में बहुमत का आंकड़ा 19 है। 2016 से चंडीगढ़ में बीजेपी का मेयर पद पर कब्जा रहा है।

इसे भी पढ़े-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रानीबाग स्थित एचएमटी फैक्ट्री का निरीक्षण किया

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें

RELATED ARTICLES
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.