Sunday, June 23, 2024
HomeUttarakhandपेयजल प्रणाली को और सुदृढ़ करने के लिए विस्तृत कार्ययोजना डीपीआर बनेगी

पेयजल प्रणाली को और सुदृढ़ करने के लिए विस्तृत कार्ययोजना डीपीआर बनेगी

रूद्रपुर, खबर संसार। यूयूएसडीए द्वारा यूरोपीय इनवेस्टमेंट बैंक से वित्त पोषित रूद्रपुर, काशीपुर व सितारगंज के नगर निकायों की वर्ष 2057 की जनसंख्या को आधार मानते हुए पेयजल प्रणाली को और सुदृढ़ करने के लिए विस्तृत कार्ययोजना डीपीआर बनाई जा रही है।

जिसका प्रस्तुतिकरण मंगलवार को जिलाधिकारी उदयराज सिंह की अध्यक्षता में जिला सभागार में परियोजना प्रबंधक यूयूएसडीए के द्वारा किया गया। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि योजना के अन्तर्गत पेयजल हेतु नगर निकाय का कोई क्षेत्र पेयजल सप्लाई से कतई छूटना नहीं चाहिए।

इसलिए संबंधित नगर निकायों व जल संस्थान से पेयजल संयोजनों व वर्तमान पेयजल सप्लाई की स्थिति का डाटा लेकर समाहित किया जाए ताकि योजना में डुप्लीकेसी न हो, न ही कोई क्षेत्र पेयजल से छूटने पाए। उन्होंने कहा कि संबंधित निकायों, जल संस्थान व अन्य विभागों से जो भी एनओसी चाहिए उसे तत्काल लिया जाये, इस हेतु उपजिलाधिकारी, एमएनए, ईओ, जल संस्थान के साथ समन्वय बैठक की जाए, ताकि सभी से शीघ्र एनओसी प्राप्त की जा सके।

योजना में 33116 पेयजल संयोजन देने का लक्ष्य

योजना के अन्तर्गत नगर निगम रूद्रपुर में 29 नए नलकूप व 11 ओवर हैड टैंकों के साथ ही 542 किमी। पेयजल वितरण प्रणाली हेतु पाइपलाईन बिछाई जाएगी, जिसकी डीपीआर दो फेज में बनाई गई है प्रथम फेज डीपीआर 289.93 करोड़ व द्वितीय फेज की डीपीआर 238.13 करोड़ प्रस्तावित है योजना में 33116 पेयजल संयोजन देने का लक्ष्य है।

इसीप्रकार काशीपुर नगर की पेयजल प्रणाली को और सुदृढ़ करने हेतु 27 नए नलकूप व 10 नए ओवर हैड टैंक व 458 किमी. पेयजल लाइन नेटवर्क प्रस्तावित है जिसमें प्रथम फेज में 287 करोड़ व द्वितीय फेज में 194.88 करोड़ की डीपीआर प्रस्तावित की गयी है। जबकि नगर निकाय सितारगंज की पेयजल योजना को और सुदृढ़ करने हेतु 9 नए नलकूप व 4 ओवर हैड टैंक के साथ ही 135 किमी. पेयजल वितरण प्रणाली की 119.88 करोड़ की डीपीआर प्रस्तावित की गयी है।

जिसमें 8529 परिवारों को पेयजल संयोजन से जोडना प्रस्तावित है। जिला अधिकारी ने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री का लक्ष्य प्रदेश के निकायों में बढ़ती जनसंख्या को देखते हुए सभी को सुचारू, निर्बाध पेयजल उपलब्ध कराना है, इसलिए कार्यदायी संस्था त्रुटिरहित डाटाबेस तैयार करते हुए योजना बनाएं, ताकि वर्ष 2057 तक सभी को सुचारू पेयजल उपलब्ध हो सके।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी मनीष कुमार, नगर आयुक्त शिप्रा पांडे, उपायुक्त नगर निगम काशीपुर रोहिताश शर्मा, परियोजना प्रबंधक कुलदीप सिंह, युद्धवीर सिंह, अधिशासी अभियंता जल संस्थान रूद्रपुर ज्योति पालनी, खटीमा अजय कुमार, सहायक अभियंता एल एम पांडे, जितेन्द्र त्यागी, के.सी. बुघानी आदि मौजूद थे।

इसे भी पढ़े-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रानीबाग स्थित एचएमटी फैक्ट्री का निरीक्षण किया

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें

RELATED ARTICLES
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img
-Advertisement-spot_img

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.