Wednesday, July 28, 2021
spot_img
spot_img
spot_img
HomeUttarakhandMahangai से आम आदमी का जीना हुआ दुश्‍वार-कांग्रेस

Mahangai से आम आदमी का जीना हुआ दुश्‍वार-कांग्रेस

- Advertisement -Large-Reactangle-9-July-2021-336

हल्‍दवानी, खबर संसार। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी (Mahangai) के कारण आम आदमी का जीवनयापन करना अत्यन्त कठिन होता जा रहा है। प्रदेश में पेट्रोल की कीमत लगभग 90 रु0 एवं डीजल की कीमत लगभग 82 रू0 प्रतिलीटर तक पहुंच गयी है। माह फरवरी 2021 में ही पन्द्रह बार पेट्रोल-डीजल की दरों में बढ़ोत्तरी की गयी है।

खाद्य तेल के दाम भी 150 रू0 प्रति लीटर से भी ऊपर पहुंच चुके है वहीं प्याज के दाम भी 50 रू० प्रति किलो से अधिक हो गये हैं। रसोई गैस सिलेण्डर में पूर्व में जारी सब्सिडी को भी लगभग समाप्त कर दिया है। माह फरवरी 2020 में उपभोक्ताओं को 309 57 रू० गैस सब्सिडी प्राप्त होती थी जो कि आज मात्र 18 रू० रह गयी है।  (Mahangai)

पड़ोसी देशों कम है तेल की कीमत

पड़ोसी देशों की तुलना में भारत में डीजल एवं पेट्रोल के बाद सर्वाधिक है। चीन में पेट्रोल की दर 77 रू० एवं डीजल की दर 67 रू० प्रति लीटर, भूटान में पेट्रोल की दर 77 रू0 एवं डीजल की दर 67 रू० प्रति लीटर, नेपाल में पेट्रोल की दर 69 रू0 एवं डीजल की दर 58 रू0 प्रति लीटर, बांग्लादेश में पेट्रोल की दर 76 रू0 एवं डीजल की दर 55 रू0 प्रति लीटर, पाकिस्तान में पेट्रोल की दर 51 रू0 एवं डीजल की दर 53 रू0 प्रति लीटर, इण्डोनेशिया में पेट्रोल की दर 46 रू0 एवं डीजल की दर 50 रू0 प्रति लीटर, अफगानिस्तान में पेट्रोल की दर 43 रू0 एवं डीजल की दर 48 रू० प्रति लीटर, बर्मा में पेट्रोल की दर 49 रू0 एवं डीजल की दर 44 रू० प्रति लीटर, श्रीलंका में पेट्रोल की दर 60 रू0 एवं डीजल की दर 39 रू0 प्रति लीटर है।

इसे भी पढ़े- Shoaib Akhtar ने भारत को सुनाई खरी-खोटी

फरवरी माह में पैट्रोल का आधार मूल्य 32.31 तथा डीजल का आधार मूल्य 33.61 प्रति लीटर था। सरकार को आम जनता की परेशानियों (Mahangai) से कोई लेना-देना नहीं रह गया है तथा करों में बेतहासा वृद्धि कर सरकार ने आम आदमी का जीना दूभर कर दिया है। प्रदेश में सरकार द्वारा महगाई (Mahangai) पर किसी भी प्रकार का कोई अंकुश न लगा पाने के कारण सरकार को कुर्सी पर बैठने का कोई नैतिक अधिकार नहीं रह गया है।

इस अविलम्बनीय तात्कालिक लोक महत्व के विषय पर नियम 310 के अंतर्गत सदन की सम्पूर्ण कार्यवाही स्थगित कर चर्चा की मांग करते हैं। डा0 इंदिरा हृदयेश, करन माहरा, मौ० काजी निर्जामुद्दीन, प्रीतम सिंह, हरीश सिंह, आदेश सिंह चौहान, गोविन्द सिंह कुंजवाल, ममता, राकेश, राजकुमार आदि रहे।

- Advertisement -Banner-9-July-2021-468x60
RELATED ARTICLES
-Advertisement-spot_img
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.