Thursday, December 9, 2021
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
HomeUttarakhand100 जवानों की rescue teams टीमें प्रभावित इलाकों में भेजी गई

100 जवानों की rescue teams टीमें प्रभावित इलाकों में भेजी गई

हल्द्वानी, खबर संसार। नैनीताल जिले में लगातार बारिश के कारण कई भूस्खलन और सड़कें अवरुद्ध हो गई थी। सड़के कई स्थानों पर टूटने व मलवा आने के कारण नागरिक फंस गए। कई अलग-अलग जगहों पर मकान क्षतिग्रस्त हो गए और कुछ के हताहत होने की भी खबर मिली। rescue teams

स्थानीय प्रशासन, पुलिस, एसडीआरएफ को बचाव कार्य (rescue teams) में लगाया गया, जिला प्रशासन, नैनीताल ने फंसे हुए नागरिकों को बचाने के लिए तुरंत सैन्य साहयता का अनुरोध किया। गरमपानी-खैरना-कैची इलाके के पास स्थिति बहुत गंभीर थी। घाटी प्रभावित हुई थी, नदी के अत्यधिक प्रवाह के कारण इमारतें खतरे में थीं।

दो रेस्क्यू टीमों को प्रभावित इलाकों में जाने के आदेश दिए गए

जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने गत दिवस मंगलवार को 14 डोगरा रजीमेन्ट  रानीखेत को खैरना, कैची, निगलाट व रामगढ क्षेत्र में राहत बचाव कार्य हेतु वार्ता की। मैजर नरेन्द्र व मैजर कोयाक के नेतृत्व में बटालियन की ओर से तुरन्त 100 जवानों की दो रेस्क्यू टीमों (rescue teams) को प्रभावित इलाकों में जाने के आदेश दिए गए हैं।

रानीखेत से सुबह 11 बजे 100 जवानों की रेस्क्यू टीम रवाना हुई, रास्ते में सड़क जाम होने की वजह से देरी से बचाव दल दोपहर करीब तीन बजे प्रभावित स्थल पर पहुंचा, आगमन पर सेना ने स्थानीय अधिकारियों से स्थिति की जानकारी ली। बिना किसी देरी के भारतीय सेना के जवानों ने खैरना में फंसे लगभग 500 लोगों को पैक किया हुआ भोजन और खाने का सामान व पानी वितरित किया।

Raj and Shilpa ने शर्लिन पर किया 50 करोड़ के मानहानि का केस

बटालियन की मेडिकल रिएक्शन टीम के प्रशिक्षित व्यक्तियों द्वारा चिकित्सा जांच कर चिकित्सा इकाई स्थापित कर लोगों का उपचार किया गया। घिंगरीखाल बटालियन के बचाव दल की तीन उप टीमों का गठन किया गया, जिन्होंने बचाव और राहत अभियान चलाया और गरमपानी और खैरना में फंसे लोगों की मदद की। खैरना से कैची धाम मार्ग बचाव और राहत कार्यों में बाधा डालने वाला प्रमुख चोक प्वाइंट था। (rescue teams)

भारतीय सेना के जवानों ने बचाव उपकरण और फंसे हुए लोगों के लिए भोजन,पानी जैसे राहत सामग्री के साथ खैरना से कैची धाम की दूरी पैदल तय कर निस्वार्थ सेवा की मिसाल पेश की। सभी फंसे हुए लोगों के लिए भोजन तैयार करने के लिए खैरना में एक कुक हाउस भी स्थापित किया गया था। सेना के पहुंचने और त्वरित बचाव कार्य कर फंसे हुए लोगों को निकाला गया।

RELATED ARTICLES
-Advertisement-
-Advertisement-spot_img
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.