Thursday, August 11, 2022
spot_imgspot_img
spot_img
HomeNationalप्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते-साधते ये क्या बोल गए राहुल गांधी?

प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते-साधते ये क्या बोल गए राहुल गांधी?

नई दिल्ली, खबर संसार। राहुल गांधी ने आज महंगाई, जीएसटी और बेरोजगारी के मुद्दे पर जमकर केंद्र सरकार को घेरा। हालांकि, बात बात में उन्होंने ऐसी बात कह दी है जिसपर हंगामा मच गया है। दरअसल, उन्होंने बीजेपी की चुनाव जीत को हिटलर की जीत से तुलना कर दी।

ये बात बोल गए राहुल

दरअसल, राहुल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवाल पूछा गया था कि आप बेरोजगारी और महंगाई का मुद्दा उठा रहे हैं लेकिन बीजेपी कहती है कि लोकतंत्र में चुनाव सबसे अच्छा तरीका होता है, जो जनता तय करती है और वो चुनाव जीत रही है। इसपर राहुल ने कहा, ‘हां हिटलर भी चुनाव जीत जाता था।

हिटलर चुनाव कैसे जीतता था। हिटलर चुनाव ऐसे जीतता था कि जर्मनी के पूरे के पूरे इंस्टीट्यूशन उसके हाथ में थे। उसके पास SA थी। पैरामिलिटरी फोर्स थी। उसके पास पूरा का पूरा ढांचा था। मुझे पूरा ढांचा दे दो फिर मैं आपको दिखाऊंगा कि कैसे इलेक्शन जीता जा सकता है।’

राहुल गांधी आज बेहद आक्रामक रूप में नजर आ रहे थे। उन्होंने कहा कि वह पीएम नरेंद्र मोदी से नहीं डरते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश के सरकारी संस्थानों को भी भाजपा और संघ का ‘प्रकोष्ठ’ बना दिया है। ED जैसे देश के सरकारी संस्थान किसी कठपुतली की तरह विपक्ष को कुचलने के भाजपाई फरमान की ‘जी हुजूरी’ करने में लगे हैं।

बीजेपी ने किया पलटवार

राहुल के आरोपों पर बीजेपी ने भी पलटवार किया। बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने राहुल के हिटलर के आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि राहुल गांधी की दादी ने देश में आपातकाल लगाया था। आपातकाल में बड़े-बड़े पत्रकारों को जेल भेजा था। राहुल गांधी की दादी जी ने कमिटेड जूडिशरी की बात की थी। आपको कुछ याद है? आप हमें लोकतंत्र की नसीहत देते हैं। क्या आपकी पार्टी में लोकतंत्र है?

इसे भी पढ़े- डीएम ने जनता दरबार में सुनीं शिकायतें, अफसरों को दिए निस्तारण के निर्देश

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.