Wednesday, February 28, 2024
spot_img
spot_img
HomeUncategorizedमुइज्जू को राष्ट्रपति पद से हटाने से पहले उन्हें हमारे शवों से...

मुइज्जू को राष्ट्रपति पद से हटाने से पहले उन्हें हमारे शवों से गुजरना होगा

मालदीव की चीन समर्थक सरकार के खिलाफ वहां के विपक्ष ने मोर्चा खोल दिया है. मुख्य विपक्षी दल मालदीव डेमोक्रेटिक पार्टी (एमडीपी) ने राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए व्यापक तैयारी की है और अब गठबंधन पार्टी के नेता आगे आ गए हैं।

गठबंधन में शामिल प्रोग्रेसिव पार्टी ऑफ मालदीव (पीपीएम) और पीपुल्स नेशनल कांग्रेस (पीएनसी) ने कहा कि वे संसद में राष्ट्रपति मुइज़ा को उखाड़ फेंकने के प्रयासों की अनुमति नहीं देंगे। विपक्षी पीडीएम के पास संसद में बहुमत है और सोमवार को ऐसी खबरें आईं कि पार्टी ने महाभियोग की कार्यवाही के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित करने के लिए सांसदों से पर्याप्त हस्ताक्षर एकत्र कर लिए हैं।

मुइज्जू को हटाने की सभी कोशिशें रोक दी जाएंगी

संवाददाता सम्मेलन में पीपीएम संसदीय दल के नेता और आइदाफुशी क्षेत्र के सांसद अहमद सलीम ने कहा कि गठबंधन राष्ट्रपति मुइज्जू को पद से हटाने के एमडीपी के सभी प्रयासों को रोक देगा। मालदीव की स्थानीय मीडिया में छपी रिपोर्ट के मुताबिक अहमद सलीम ने कहा कि हम उन्हें ऐसा करने का कोई मौका नहीं देंगे।

राष्ट्रपति को पद से हटाने के बारे में सोचने से पहले उन्हें हमारे शवों से गुजरना होगा। मालदीव की गठबंधन सरकार ने दावा किया है कि भले ही एमडीपी के पास संसद में बहुमत है, लेकिन वे राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया को आगे नहीं बढ़ने देंगे। राष्ट्रपति मुइज्जू के खिलाफ महाभियोग की खबर से ठीक एक दिन पहले रविवार को मालदीव की संसद में हिंसा देखी गई. सत्ता पक्ष और विपक्ष के सांसद आपस में भिड़ गए और संसद अखाड़ा बन गई।

मालदीव की संसद में हिंसा तब शुरू हुई जब एमडीपी ने मुइज्जू कैबिनेट के चार सांसदों की संसदीय मंजूरी रोकने का फैसला किया। एमडीपी ने चार सांसदों की संसदीय मंजूरी के लिए वोटिंग की प्रक्रिया शुरू नहीं होने दी, जिसके चलते दोनों पार्टियों के सांसद आपस में भिड़ गए।

एमडीपी के पास महाभियोग के लिए पर्याप्त हस्ताक्षर हैं

मालदीव के अखबार सन.कॉम ने एक एमडीपी सांसद के हवाले से कहा कि एमडीपी ने अपने साथी डेमोक्रेट्स के साथ मिलकर महाभियोग प्रक्रिया शुरू करने के लिए पर्याप्त हस्ताक्षर एकत्र कर लिए हैं। हालाँकि, उन्होंने अभी तक इसे संसद में पेश नहीं किया है। मडीपी के संसदीय दल की बैठक हुई जिसमें मुइज्जू के खिलाफ महाभियोग लाने पर सहमति बनी। पिछले साल सितंबर में हुए चुनाव में 45 साल के मुइज्जू ने भारत के प्रति दोस्ताना रवैया रखने वाले इब्राहिम मोहम्मद सोलिह को हराया था।

इसे भी पढ़े-मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रानीबाग स्थित एचएमटी फैक्ट्री का निरीक्षण किया

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें

RELATED ARTICLES

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.