Uttarakhand

पॉलीसीट हाइडिल और टैगोर कॉलोनी में दिखा tendua

हल्द्वानी खबर संसार। पॉलीसीट हाइडिल और टैगोर कॉलोनी, वैशाली कॉलोनी के एरिया में लगातार अलग-अलग लोगो द्वारा तेंन्‍दुुुुआ (tendua) देखे जाने की पुष्टि हुई है। साथ ही लगातार गायब होते कुत्ते इस बात का प्रमाण को पुख्ता कर रहे है।

इस बात की सूचना हाइडिल निवासी सामाजिक कार्यकर्ता नीरज जोशी ने जिलाधिकारी सविन बंसल के साथ साथ डीएफओ को फोन पर दी। नीरज जोशी ने खबर संसार को बताया कि कल रात उन्होंने अपनी आंखो से रात्रि 1 बजे देखा कि तेन्‍दुआ (tendua) रोड क्रॉस कर रहा है। जो टैगोर कॉलोनी में गया। उन्होंने बताया कि लगातार गायब हो रहे कुत्ते इस बात का प्रमाण है।

बताते चले की जून के लास्‍ट में दस दिनों से हल्द्वानी के ग्रामीण व शहरी इलाकों में तेंदुए (tendua) के आतंक की वजह से लोगों के साथ-साथ वन विभाग के निचले अधिकारी व कर्मचारी भी चिंता में पड़ चुके थे। रेंज का स्टाफ हर सूचना पर मौके पर पहुंचता था लेकिन तेंदुआ को लेकर कोई सुराग हत्थे नहीं लग रहा। जिस वजह से लोगों के आक्रोश का सामना भी करना पड़ा था ।

रानीबाग में महिला की ले ली थी जान
दीवार से सटी जंगल की झाड़ियों में बैठा तेंदुआ (tendua) साफ नजर आया। हल्द्वानी रेंजर उमेश आर्य ने बताया कि बंदूकधारी स्टाफ होने के बावजूद इसलिए फायर नहीं किया गया, क्योंकि दूसरी तरफ भी आबादी वाला इलाका था। आशंका थी कि तेंदुआ वहां आतंक मचा सकता था। वहीं, भाजपा नेता व स्थानीय पार्षद राजेंद्र सिंह नेगी ने कहा कि लोगों का डर खत्म करने को तेंदुए को जल्द से जल्द पकड़ा जाए।
रामपुर रोड से काठगोदाम तक रहा था तेंदुआ का आतंक

जून में ही गुलदार ने सोनकोट के जंगल में घास लेने गई बुजुर्ग महिला भगवती देवी की जान ले ली थी। कैमरे व पिंजड़ा लगाने के बावजूद कोई सुराग नहीं लगा। इसके दो दिन बाद शीशमहल व काठगोदाम में तेंदुए की आहट से लोग दहशत में आ गए थे। पुलिस की गाड़ी तक पर गुलदार ने हमला किया था। वहीं, सोनकोट की घटना से तीन दिन पहले गुलदार बजूनियाहल्दू में भी नजर आया था। अब देवलचौड़ के वार्ड 56 में गुलदार दिखा है।

Related posts

Leave a Comment