Tech & Auto

सरकार ने व्हाट्सऐप को नई privacy policy वापस लेने को कहा

नई दिल्ली, खबर संसार । व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी (privacy policy) को लेकर मचे बवाल के बीच भारत सरकार ने इसे अस्वीकार्य बताते हुए कंपनी को इसे वापस लेने को कहा है।

केंद्र सरकार ने व्हाट्सऐप के सीईओ विल कैथार्ट को खत लिखकर कहा है कि सेवा, गोपनीयता शर्तों (privacy policy) में कोई भी एकतरफा बदलाव उचित और स्वीकार्य नहीं है। सरकार ने यह भी कहा कि व्हाट्सऐप गोपनीयता नीति में प्रस्तावित बदलाव गंभीर चिंताएं पैदा करते हैं, उन्हें वापस लेना चाहिए।

व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी गंभीर चिंताएं पैदा करने वाली

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने व्हाट्सऐप के सीईओ विल कैथार्ट को कड़े शब्दों में लिख गए पत्र में कहा कि भारत दुनिया में व्हाट्सऐप का सबसे बड़ा उपयोगकर्ता है और उसकी सेवाओं के लिए सबसे बड़ा बाजार है।

पत्र में कहा गया कि व्हाट्सऐप की सेवा और प्राइवेसी पॉलिसी में प्रस्तावित बदलाव भारतीय नागरिकों की पसंद और स्वायत्तता को लेकर गंभीर चिंताएं पैदा करते हैं।

इसे भी पढ़े- भारत ने बॉर्डर-गावस्‍कर सीरीज पर किया कब्‍जा, Rishabh ने खेली 89 रनों की पारी

मंत्रालय ने व्हाट्सऐप से प्रस्तावित बदलावों को वापस लेने और सूचना गोपनीयता (privacy policy), चयन की आजादी और डेटा सुरक्षा को लेकर अपने नजरिए पर फिर से विचार करने को कहा।

लेटर में कहा गया कि भारतीयों का उचित सम्मान किया जाना चाहिए, और व्हाट्सऐप की सेवा, गोपनीयता शर्तों में कोई भी एकतरफा बदलाव उचित और स्वीकार्य नहीं है।

बता दें की WhatsApp ने अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को तीन महीने के लिए टाल दिया है। व्हाट्सएप का कहना है कि प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर यूजर्स में भ्रम हैं।

इसलिए पॉलिसी की शर्तों को समझने के लिए यूजर्स को समय दिया जा रहा है. व्हाट्सएप ने ये भी कहा है कि प्राइवेसी पॉलिसी के आधार पर कभी भी अकाउंट को हटाने की योजना नहीं बनाई गई है और भविष्य में भी ऐसी योजना नहीं होगी।

पहले ऐसा कहा जा रहा था कि WhatsApp 8 फरवरी 2021 को अपनी टर्म्स ऑफ सर्विस को अपडेट करने जा रहा है। अगर WhatsApp यूजर्स इससे एग्री नहीं होते हैं तो वे WhatsApp इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

Related posts

Leave a Comment