Thursday, September 23, 2021
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
HomeNationalबच्चे के रोने पर मां ने feviquick से चिपका दिया मुंह, फिर...

बच्चे के रोने पर मां ने feviquick से चिपका दिया मुंह, फिर जो हुआ

- Advertisement -Large-Reactangle-9-July-2021-336

खबर संसार, देहरादून: बच्चे के रोने पर मां ने feviquick से चिपका दिया मुंह, फिर जो हुआ। एक मां ने बच्चे को चुप कराने के लिए एक खतरनाक कदम उठाया उसका मुंह फेविक्विक लगाकर चिपका दिया जिससे वह रो न सके। जिसके बाद बच्चे का मुंह चिपक गया।

मामला बिहार के छपरा जिले का है, जहां पर यह घटना घटी। डाक्टर ने काफी मशक्कत के बाद बच्चे के मुंह से feviquick हटाया तब जाकर कहीं उसका मुंह खुल सका। ये घटना क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गई।

होठों पर लगा दिया feviquick

- Advertisement -Banner-9-July-2021-468x60

क्या कभी आपने सोचा है कि एक मां बच्चे के साथ ऐसा भी कर सकती है, कि अगर बच्चा रो रहा है तो उसको चुप कराने के लिए उसका मुंह ही feviquick  चिपका दें। जी हां, बिहार के छपरा जिले से कुछ महीनों पहले ही यह घटना सामने आई थीं।

ये भी पढ़ें- जिन जातकों की कुंडली में कालसर्प दोष,सर्प दोष , गुरु चांडाल दोष, विष दोष वो करे ऐसा

यहां एक मां ने अपने मासूम बच्चे को चुप कराने के लिए बहुत ही खतरनाक और दर्दनाक तरीका अपनाय। एक मां अपने बच्चे के रोने से इतना परेशान हो गई कि उसने बच्चे का मुंह बंद करने के लिए होठों पर फेविक्विक लगा दिया। और बच्चे का मुंह चिपक गया। औ फिर बच्चा परेशान हो गया।

घटना की जानकारी जब पिता को हुई

इस घटना की जानकाी जब पिता को हुई तो वह काफी परेशान हो गया, बच्चा बोलने की कोशिश कर रहा था, लेकिन उसका मुंह feviquick की वजह से चिपक गया था। तो वह आनन-फानन में बच्चे को लेकर डाॅक्टर के पास पहुंचा, जहां उसका इलाज हुआ। पिता ने आगे बताया इसके बारे में उसने पत्नी से बात की तो उसने बताया कि बच्चा पूरे समय रोता रहता है। इसलिए उसने बच्चे का मुंह फेविक्विक से चिपका दिया।

हम आपको ताजा खबरें भेजते रहेंगे....!

RELATED ARTICLES
-Advertisement-spot_img
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img

Most Popular

About Khabar Sansar

Khabar Sansar (Khabarsansar) is Uttarakhand No.1 Hindi News Portal. We publish Local and State News, National News, World News & more from all over the strength.